Mothers Day: एक मुट्ठी बादाम के साथ मांओं के लिये सुनिश्चित करें सेहतमंद जिंदगी

मांओं के रोजमर्रा की चुनौतियों के बारे में, बॉलीवुड की जानी-मानी बॉलीवुड अभिनेत्री, सोहा अली खान कहती हैं, "जब मैं मां बनी, तो मैं सही मायने में अपनी मां के प्यार और त्याग को समझ पाई। बच्चे के जन्म के बाद, आपका बच्चा आपकी दुनिया बन जाता है और आप उनकी सलामती के लिये कुछ भी करने को तैयार रहते हैं।

मुंबई: सही मायने में मांओं को परिवार का स्तंभ कहा जाता है। हर मां के लिये, चाहे वे कामकाजी हों या फिर गृहिणी, उनके लिये काम का कोई अंत ही नहीं होता। उनकी कोशिशों के सम्मान और मदरहुड का जश्न मनाने के लिये, पूरी दुनिया में 8 मई को मदर्स डे मनाया जाता है। जैसे कि यह दिन करीब आ रहा है, आइये उनकी सेहत और पोषण के विभिन्न पहलुओं पर ध्यान देते हैं।

स्वस्थ जीवन को बनाए रखने के लिये उचित पोषण और स्वस्थ आदतें आवश्यक हैं। हालांकि, अपनी व्यस्त दिनचर्या के कारण, मांओं को शायद ही कभी खुद की देखभाल करने का समय मिल पाता है। वे जितना अपने परिवार का ख्याल रखती हैं, उतना ही उन्हें स्वयं का भी ध्यान रखने की आदत डालनी चाहिए। शुरू करने का एक अच्छा तरीका नियमित व्यायाम के लिये समय निकालना और संतुलित आहार शामिल करना है। समझदारी से स्नैक्स चुनने से मांओं को जरूरी पोषण सुनिश्चित करने में काफी आगे तक मदद मिल सकती है। जैसे, फ्रायड स्नैक्स की जगह मुट्ठी भर बादाम लेने से अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों के अलावा प्लांट प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन, विटामिन ई, मैग्नीशियम, राइबोफ्लेविन और जिंक मिलता है। बादाम का नियमित सेवन मांओं को सेहतमंद जीवनशैली जीने में मदद कर सकता है।

Must Read- रोड पर लोगो से पैसे मांगती दिखी Sara Ali Khan, सामने आई बड़ी वजह

मांओं के रोजमर्रा की चुनौतियों के बारे में, बॉलीवुड की जानी-मानी बॉलीवुड अभिनेत्री, सोहा अली खान कहती हैं, “जब मैं मां बनी, तो मैं सही मायने में अपनी मां के प्यार और त्याग को समझ पाई। बच्चे के जन्म के बाद, आपका बच्चा आपकी दुनिया बन जाता है और आप उनकी सलामती के लिये कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। हालांकि, मां होना थका देने वाला हो सकता है। इसलिये, खुद का ख्याल रखना उतनी ही जरूरी है, जितना कि अपने बच्चों की देखभाल करना जरूरी है। मैं हमेशा ही खुद की एनर्जी का स्तर बनाये रखने के लिये, सरल लेकिन प्रभावी तरीके तलाशती रहती हूं, जैसे- एक्सर्साइज़ करना और सही खाना। इसलिये, शूटिंग के दौरान या सफर में मैं हमेशा बादाम अपने साथ रखती हूं, ताकि दिनभर मैं थोड़ा-थोड़ा खाती रहूं। इसके अलावा, गैर-सेहतमंद स्नैक्स लेने के बजाय बादाम खाने से हमारी जिंदगी में एक सेहतमंद बदलाव आ सकता है। बादाम जरूरी पोषक तत्वों का एक स्रोत होता है, जैसे- विटामिन ई, मैग्नीशियम, प्रोटीन, राइबोफ्लेविन, जिंक, आदि। यह मुझे पूरे दिनभर ऊर्जावान और संतुष्ट रखता है।”

तो इस मदर्स डे पर, आइये अपनी मांओं के प्यार, उनके योगदान और त्याग का जश्न मनाएं और एक मुट्ठी बादाम के साथ उनकी बेहतर देखभाल का संकल्प लें।

Source- PR