आज से मानसून पकड़ेगा रफ्तार, इन जिलों में गरज-चमक के साथ होगी झमाझम बारिश

मानसून अब सुस्त पड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। लेकिन कुछ दिन बाद पुनः बारिश का दौर शुरू होगा। इस बार ठंड जल्दी दस्तक दे सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक 20 सितंबर से 23 सितंबर तक के स्थानों ओर झमाझम बारिश होने की संभावना है। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में नमी अब कम बनी हुई हैं। इसकी वजह से बारिश की गतिविधि भी कमजोर हो गई हैं। मौसम में कुछ दिन में ओर परिवर्तन नजर आने वाले हैं। हालांकि मौसम विभाग ने कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर वृजपात की चेतावनी दी है। हालांकि कई जिलों में रुक-रुक बारिश का दौर जारी है तो कहीं बदल छाव हो रहे है और उमस से लोग काफी ज्यादा परेशान हैं। वहीं 2 दिन के अंदर मानसून की वापसी होने की उम्मीद है।

बीते 24 घंटे की स्थिति

मौसम विभाग के अनुसार बीते 24 घंटे के मुताबिक कुछ स्थानों तेज धूप रही तो कही बादल छाए रहे, कही स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज हुई। इंदौर, ग्वालियर, रीवा, चंबल, जबलपुर, शहडोल, सागर, नर्मदापुरम, शहपुरा, भोपाल, सिंगरौली में वर्षा दर्ज की गई।

मौसम पूर्वानुमान

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार अगले 24 घंटे में इन जिलों में बारिश होने की संभावना हैं, मौसम विभाग ने इन जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग येलो अलर्ट जारी कर मंडला, सिवनी, पन्ना, कटनी, ग्वालियर, सतना, जबलपुर, छतरपुर, भिंड में तेज बारिश का अनुमान जाहिर किया है। वहीं रीवा, खरगोन, शहडोल, भोपाल, धार, ग्वालियर, बुरहानपुर, नर्मदापुरम, खंडवा, सागर, चंबल, जबलपुर में गरज चमक के साथ बिजली गिरने व झमाझम बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग

मौसम विभाग के मुताबिक अब मानसून विदा लेने वाला है। मानसून ने अभी कच्छ और साउथवेस्ट राजस्थान को बाय बोल दिया है। लेकिन कुछ राज्यों में अभी भी मानसून सक्रीय हैं। मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़, विदर्भ, ओडिशा, पूर्वी मध्यप्रदेश में बारिश की संभावना है।

Must Read- मुख्यमंत्री चौहान ने महाकाल कॉरिडोर का किया निरीक्षण, सौंदर्यीकरण कार्य की प्रशंसा कर कही ये बात

अन्य राज्यों में मौसम का हाल

मौसम विभाग के मुताबिक तैलंग और ओडिशा में 20 से 21 सितंबर, पश्चिम बंगाल- उत्तर तटीय आंध्रप्रदेश- बिहार- झारखंड में 20 सितंबर, विदर्भ व पूर्वी मध्यप्रदेश में 20 से 23 सितंबर, मराठवाड़ा व छत्तीसगढ़ में 20 से 22 सितंबर, मध्य महाराष्ट्र में 21 से 22 सितंबर और पश्चिमी मध्यप्रदेश में 22 से 23 सितंबर को गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग

मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर पश्चिम भारत के ऊपर चक्रवात विरोधी प्रवाह के कारण अगके कुछ दिन पश्चिम राजस्थान, पंजाब, हरियाणा के आसपास के क्षेत्र में मौसम शुष्क रहने की संभावना बनी हुई है। बताया जा रहा है कि 2 दिन उत्तर-पश्चिम भारत और कच्छ के कुछ स्थानों में दक्षिण व पश्चिम में मानसून की वापसी लिए स्थिति बिल्कुल ठीक है।