मोदी सरकार सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से छिन लेगी ये सुविधा!

0
78
akhilesh mulayam

नई दिल्ली। केंद्र सरकार देश के करीब दो दर्जन नेता व अन्य वीआईपी की सुरक्षा में कटौती करेगी या वापस लेगी। इधर, यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव से जेड प्लस सुरक्षा वापस लेने की तैयारी में है। सूत्रों के मुताबिक सरकार इस संबंध में जल्द ही आधिकारिक आदेश जारी करने वाली है। अधिकारियों ने बताया कि गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के तहत दी जाने वाली वीआईपी सुरक्षा की व्यापक समीक्षा के बाद अखिलेश यादव को मिली एनएसजी सुरक्षा वापस
लेने का फैसला किया है।

हालांकि समीक्षा के दौरान यह साफ नहीं हो पाया कि अखिलेश यादव की सुरक्षा में कटौती की जाएगी या पूरी सुरक्षा ही वापस ली जाएगी। इसका फैसला गृह मंत्रालय से लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि सपा के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव को मिली एनएसजी ‘ब्लैक कैट’ सुरक्षा जारी रहेगी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने खतरे को देखते हुए केंद्र और राज्य (उत्तर प्रदेश) की खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार यह फैसला लिया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश को कांग्रेस सरकार के दौरान वीआईपी सुरक्षा 2012 में उपलब्ध करवाई गई थी। अभी अखिलेश की सुरक्षा में अत्याधुनिक हथियारों से लैस एनएसजी दस्ते के करीब 22 कमांडो तैनात हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आतंक रोधी बल (एनएसजी) फिलहाल 13 विशिष्ट नेताओं की सुरक्षा में तैनात है। इनमें रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, यूपी की पूर्व सीएम मायावती, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल, आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू और जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here