दिल्ली विश्वविद्यालय में शुरू होने जा रहे हैं कई नए कोर्सेज, सिखाई जाएगी खुश रहने की कला

दिल्ली विश्वविद्यालय में शैक्षणिक सत्र 2022-23 में विद्यार्थियों के लिए कोर्सेज शुरू करने का निर्णय लिया है.

Delhi: दिल्ली विश्वविद्यालय 2022-23 के सत्र से इमोशनल इंटेलिजेंस खुश रहने की कला और इंडियन शिक्षण जैसे वैल्यू एडेड पाठ्यक्रम शुरू करने जा रहा है. इन कोर्सों को अंडरग्रैजुएट करिकुलम फ्रेमवर्क 2022 के अंतर्गत शुरू किया जाने वाला है. डीयू अकादमिक परिषद की बैठक में इस संबंध में चर्चा कर 24 नए पाठ्यक्रम शुरू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है. विद्यार्थी हर सेमेस्टर में 1 या उससे अधिक पाठ्यक्रमों का चुनाव कर सकते हैं.

इन कोर्सेज में इमोशनल इंटेलिजेंस, फाइनेंशियल लिटरेरी एंड एथिक्स, वैदिक मैथमेटिक्स, आर्ट ऑफ बींग हैप्पी, वैल्यू ऑफ इंडियन ट्रेडिशन सिस्टम जैसे विषय शामिल हैं. इन पाठ्यक्रमों को राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2022 को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है. पाठ्यक्रमों में करुणा, टीमवर्क, वैज्ञानिक स्वभाव, भारतीय ज्ञान प्रणाली, सांस्कृतिक, नैतिक और संवैधानिक मूल्य, सोच और रचनात्मक लेखन जैसे घटक शामिल है.

Must Read- सातवां वेतन आयोग: कर्मचारियों की हुई बल्ले-बल्ले, खाते में आया बकाया डीए एरियर का पैसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए प्रमुख अभियानों में से एक फिट इंडिया और स्वच्छ भारत से प्रेरित होकर इन पाठ्यक्रमों को तैयार किया गया है. इसके अलावा विश्वविद्यालय अंग्रेजी में भारतीय कथा साहित्य से परिचित कराने के लिए विद्यार्थियों के लिए एक पाठ्यक्रम भी शुरू करने वाला है.

दिल्ली विश्वविद्यालय में हुई बैठक में इन नए पाठ्यक्रमों को लेकर रखे गए प्रस्ताव को वैसे तो मंजूरी मिल गई है. लेकिन अकादमिक परिषद के 7 सदस्यों ने असहमति नोट जारी किया है. उनका कहना है कि इन सभी विषयों से शिक्षकों की भागीदारी को बाहर रखा गया है. जिस वजह से कई विषयों को प्रतिनिधित्व नहीं मिल पा रहा है.