महाराष्ट्र : सरकार गठन में देरी की विलेन कांग्रेस नहीं, बल्कि ये नेता है

0
90

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर सस्पेंस जारी है। शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस में गठबंधन होने के बाद भी बात नहीं बन पा रही है। तीनों पार्टियों के नेताओं के बयान लगातार चर्चा में बने हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में नई सरकार गठन में देरी का विलेन कांग्रेस नहीं है, बल्कि एनसीपी प्रमुख शरद पवार है। पवार की वजह से सरकार बनाने में लगातार देरी हो रही है। बताया जा रहा है कि कांग्रेस से कहीं अधिक एनपीसी शिवसेना के साथ जाने में कंफ्यूज है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने दो दिन पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। इसके बाद पवार ने कहा था कि उन्होंने अभी तक सरकार गठन पर सोनिया गांधी से विचार विमर्श नहीं किया है। राकांपा नेता शिवसेना की कार्यशैली व विचारधारात्मक विरोधाभासों को लेकर भी चिंतित हैं। इस पर शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि शरद पवार के बयानों को समझना कोई आसान काम नहीं है। इधर, तीन पार्टियों में न्यूनतम साझा कार्यक्रम के मुताबिक बातचीत चल रही है। वहीं शिवसेना उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने पर जोर दे रही है। इस बात लेकर भी सरकार गठन में देरी हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here