महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे पहले ही दिन इस बात पर भड़के, जानें पूरा मामला

0
140

नई दिल्ली। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने 28 नवंबर को महाराष्ट्र के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। शपथ के बाद उन्होंने कैबिनेट की पहली बैठक भी बुलाई। इसके बाद एक प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया, जिसमें एक पत्रकार ने सवाल पूछा कि क्या शिवसेना सेक्युलर हो गई है। इस पर सीएम ठाकरे भड़क गए और पत्रकार से ही पूछ लिया सेक्युलर क्या होता है। उद्धव ने कहा है कि सेक्युलर का मतलब क्या है? संविधान में जो लिखा है वो सेक्युलर है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना गठबंधन के बीच एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर सहमति बनी है।

इस पर साझा कार्यक्रम पर काम होगा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारी सरकार आम जनता के लिए काम करेगी। एक या दो दिन में किसानों के लिए मदद का ऐलान किया जाएगा। ठाकरे ने कहा कि किसानों से जुड़ी योजनाओं से संबंधित जानकारी तलब की गई है। इसके बाद जल्द निर्णय लिया जाएगा। इस दौरान उन्होंने छत्रपति शिवाजी की राजधानी रहे रायगढ़ किले को संवारने के लिए 20 करोड़ रुपए खर्च करने का ऐलान किया है।

महाराष्ट्र के मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले एनसीपी नेता जयंत पाटील ने पहली कैबिनेट बैठक के बाद कहा कि सरकार के भीतर मुख्यमंत्री सहित 6 मंत्रियों की एक समन्वय समिति होगी। एक बाहरी समिति होगी जो लक्ष्यों को हासिल करने में सरकार का मार्गदर्शन करेगी। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के दो-दो विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। इनमें शिवसेना के एकनाथ शिंदे व सुभाष देसाई, राकांपा के जयंत पाटील औश्र छगन भुजबल और कांग्रेस के बालासाहेब थोरात और नितिन राउत शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here