बजट के बाद फ़ैल रही अफवाहें, LIC के गिरे शेयर्स

वित्त मंत्री के इस ऐलान के बाद से ही इससे जुड़ी कई ख़बरें सामने आ रही है। इन ख़बरों से LIC से जुडे लोगों को परेशान कर दिया है। खासकर LIC पॉलिसी धारक बाजार में चल रहे अफवाहों से घबराए हुए हैं।

0
lic

नई दिल्ली: भारतीय जीवन बीमा निगम को लेकर कई तरह की अफवाहें फैलाई जा रही है। दरअसल, बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने LIC का आईपीओ लाने का ऐलान किया है। वित्त मंत्री के इस ऐलान के बाद से ही इससे जुड़ी कई ख़बरें सामने आ रही है। इन ख़बरों से LIC से जुडे लोगों को परेशान कर दिया है। खासकर LIC पॉलिसी धारक बाजार में चल रहे अफवाहों से घबराए हुए हैं।

इन अफवाहों के बाद जीवन बीमा निगम ने बयान जारी किया है। कंपनी ने कहा कि उसको अपनी सब्सिडाइज कंपनी एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस लि. (एलआईसीएचएफएल) का किसी अन्य इकाई के साथ विलय का कोई प्रस्ताव नहीं है।

LIC

अपने स्पष्टीकरण में कंपनी ने कहा कि ‘वास्तव में एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस का किसी अन्य इकाई में विलय का कोई प्रस्ताव नहीं है। बाजार में जो भी अफवाह है, वह तथ्यों पर आधारित नहीं है।’

वहीं, IDBI बैंक ने भी अपने बयान में कहा है कि निदेशक मंडल बैठक में इस प्रकार के किसी प्रस्ताव पर चर्चा नहीं हुई है। इस खबर के बाद एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस का शेयर लगातार गिर रहे हैं। मंगलवार को भी 5 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखी जा रही है।