Homeदेशलखीमपुर हिंसा: आशीष-अंकित की बढ़ी मुसीबतें, फॉरेंसिक रिपोर्ट में हुआ खुलासा

लखीमपुर हिंसा: आशीष-अंकित की बढ़ी मुसीबतें, फॉरेंसिक रिपोर्ट में हुआ खुलासा

लखीमपुर। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच अब रफ़्तार पकड़ रही है। इसी कड़ी में अब इस मामले की फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट आ गई है। वहीं सूत्रों का कहना है कि, फॉरेंसिक रिपोर्ट में फायरिंग की बात सामने आई है। रिपोर्ट में राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा और उसके करीबी अंकित दास के लाइसेंसी असलहा की बैलेस्टिक रिपोर्ट में फायरिंग होने की बात कही है। हालांकि अभी तक इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

साथ ही एएसपी ने कहा कि, सील बन्द लिफाफे में तीन असलहों की रिपोर्ट आई है। विवेचक कोर्ट के सामने बैलिस्टिक रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा। गौरतलब है कि, घटना के बाद पुलिस टीम अंकित दास को लेकर लखनऊ गई और उसकी निशानदेही पर एक रिपीटर गन और एक पिस्टल बरामद किए थे। जिसके बाद पुलिस ने अंकित दास की रिपीटर गन, पिस्टल और आशीष मिश्रा की राइफल और रिवॉल्वर को जब्त किया था साथ ही चारों असलहों की एफएसएल रिपोर्ट मांगी गई थी।

ALSO READ: इंदौर में तैयारी की जा रही दृष्टिबाधित महिला क्रिकेट टीम, प्रदेशभर से बुलाए गए आवेदन

पूरा मामला

जानकारी के लिए आपको बता दें कि, 3 अक्तूबर को तिकोनिया में हुए बवाल में चार किसान और एक पत्रकार समेत आठ लोगों की मौत हुई थी। जिसके बाद इस मामले में किसानों की तरफ केंद्रीय गृहराज्य मंत्री के पुत्र आशीष मिश्रा समेत 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई थी। इस मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी ने आशीष मिश्रा, आशीष पांडेय, लवकुश राणा, शेखर भारती, अंकितदास और काले उर्फ लतीफ़, भाजपा सभासद सुमित जायसवाल, नन्दन सिंह विष्ट, सत्यम त्रिपाठी, मोहित त्रिवेदी, रिंकू राना, धर्मेंद्र बंजारा और शिशुपाल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular