सरकार के लिए रोड़ा बन सकता है किसान आंदोलन|Kisan movement can become a barrier to the government

0
kisan andolan

चार राज्यों में अभी विधानसभा चुनाव होना है. इसी बीच किसानो ने सरकार पर हमला करते हुए| एक बार फिर आंदोलन करने का फैसला किया है| बता दे कि पहले भी किसान आंदोलन हो चुका है.जिसके कारण भाजपा सरकार को कांफी परेशानी हो गई थी. विधानसभा चुनाव से पहले किसान आंदोलन करते हैं. तो सरकार को कांफी परेशानी उठाना पड़ सकती है| किसान 29 और 30 नवंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में करेंगे बड़ा प्रदर्शन। 29 नवंबर रात को रामलीला मैदान में ‘एक शाम, किसानों के नाम’ नाम से एक कार्यक्रम भी रखा गया है। किसान अपने उपज मूल्य की कीमतें स्वामीनाथन आयोग द्वारा तय सी 2 तकनीकी के आधार पर तय कराना चाहते हैं। इसके अलावा कर्जमाफी उनकी दूसरी महत्त्वपूर्ण मांग है।