कठुआ रेप-मर्डर कांड : 3 दोषियों को मिली उम्रकैद, बाकि तीन को 5 साल की जेल

0
194

जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले के रसाना में आठ साल की एक बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म और उसके बाद हत्या के मामले में विशेष अदालत ने सोमवार को फैसला सुना दिया है। पठानकोट कोर्ट ने सुनवाई करते हुए सात में से 6 आरोपियों को दोषी करार दिया गया है। जिन आरोपियों को दोषी माना है, उनमें सांझी राम, दीपक खजूरिया, आनंद दत्ता, तिलक राज, सुरेंद्र और प्रवेश हैं।

वहीं कोर्ट ने विशाल जंगोत्रा को मामले से बरी कर दिया है। इस मामले में दोषी ठहराए गए 6 आरोपियों में से 4 पुलिसकर्मी हैं। कठुआ गैंगरेप-मर्डर केस में सांझी राम, दीपक खजुरिया और प्रवेश कुमार को उम्रकैद की सजा सुने गई है.। दीपक खजूरिया और सुरेंद्र विशेष पुलिस अधिकारी हैं। तिलक राज हेड कांस्टेबल है और आनंद दत्ता एसआई है। बाकि तीन अन्य दोषियों को 5 साल की सजा के साथ एक लाख रुपए जुरमाना भी दिया गया.

पूरे देश को शर्मसार कर देने वाली इस घटना के मामले में ट्रायल 3 जून को पूरा हो गया था। मामले की सुनवाई कर रहे जिला और सत्र न्यायाधीश तेजविंदर सिंह ने फैसला सुनाने के लिए 10 जून की तारीख तय की थी। इधर फैसले के मद्देनजर कठुआ में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

गौरतलब है कि कठुआ जिले के रसाना गांव में 10 जनवरी 2017 को आठ साल की एक बच्ची का अपहरण कर लिया गया था। उसके बाद गांव के एक धार्मिक स्थल में कथित तौर पर उसके साथ चार दिन तक छेड़खानी करने के बाद बलात्कार किया गया और लाठी से पीट कर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि जब इस मामले में क्राइम ब्रांच के अफसरों को वकीलों ने चार्जशीट दाखिल नहीं करने दी तो सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई राज्य से बाहर करने का आदेश दिया था। इस आदेश के बाद ही पंजाब के पठानकोट जिले सुनवाई शुरू की गई थी।

इस मामले में आठ आरोपियों में से सात के खिलाफ जिला और सत्र न्यायाधीश ने बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया था। एक अन्य किशोर आरोपी के खिलाफ मुकदमा शुरू होना अभी बाकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here