Homeदेशमध्य प्रदेशकमलनाथ का सीधा वार, बोले- PM भोपाल आए और भाषण परोस गए

कमलनाथ का सीधा वार, बोले- PM भोपाल आए और भाषण परोस गए

भोपाल -24 नवंबर 2021
“आदिवासी संस्कृति व देश की संस्कृति एक है। यही वो संस्कृति है जो हमारे देश को आज एक झंडे के नीचे व हम सभी को एक साथ खड़े किये हुए हैं। कांग्रेस आदिवासी वर्ग की हमेशा से हितैषी रही है और हमेशा रहेगी। कांग्रेस ने ही हमेशा से ही आदिवासी वर्ग के उत्थान के लिये एक नई दिशा देने का काम किया।देश की आजादी में आदिवासी वर्ग का योगदान किसी से छिपा नहीं है, चाहे वो महानायक टंट्या भील हो या महानायक बिरसा मुंडा हो या आदिवासी वर्ग के अन्य महनायक जिन्होंने देश हित के लिया संघर्ष किया है, कांग्रेस हमेशा से ही उन्हें याद करती रही है। कांग्रेस की 15 माह की सरकार में भी हमने आदिवासी वर्ग के उत्थान के लिये कई कार्य किये, कई योजनाएँ बनायी, कई निर्णय लिये।आदिवासी वर्ग का भला सिर्फ कांग्रेस ही कर सकती है “ उक्त संबोधन आज पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीसीसी में आयोजित आदिवासी वर्ग की बैठक में दिया।

ALSO READ: NRI का नया धंधा भारत में शादी करो दौलत हड़पो, विदेश भाग जाओ

नाथ ने कहा कि भाजपा आज आदिवासी वर्ग को गुमराह करने का काम कर रही है, वह आदिवासी युवाओ को भ्रमित कर, उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का काम कर रही है लेकिन आज का आदिवासी समाज बहुत समझदार है, वह किसी बहकावे में आने वाला नही है।आज का युवा पढ़ा लिखा है, वह अब जागरूक हो गया है। आज की नई पीढ़ी में अपनी सोच है, एक तड़फ है, वह पलायन नहीं चाहता है, वह ठेका-कमीशन नहीं चाहता है, वह तो सिर्फ़ अपने हाथों में काम चाहता है, सम्मान चाहता है।

नाथ ने कहा कि भाजपा और उसके नेताओं की सोच कभी भी आदिवासियों का भला करने की रही नही है। भाजपा का तो लक्ष्य रहा है समाज को समाज से बांटों और फूट डालों की राजनीति करो। भाजपा आदिवासी वर्ग को गुमराह करने में लगी हुई है। अभी हाल ही में जनजातीय गौरव दिवस दिवस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी आये थे, ख़ूब भाषण परोसा, आयोजन पर करोड़ों खर्च किये, करोड़ों रुपये भाजपा के प्रचार- प्रसार पर लूटा दिये, पर एक भी आदिवासी के सुख-दुख पर बात उन्होंने नहीं की।

भाजपा के कई मंत्री स्वागत-अगवानी में लगे रहे लेकिन आदिवासी वर्ग के एक भी मंत्री को यह मौका नहीं दिया गया।मोदी जी बड़ी-बड़ी बाते करते हैं, दो करोड़ रोजगार की बात नहीं करते, आज नौजवानों की बात नहीं करते, आदिवासी की बात नहीं करते, वह तो अब गुमराह करने के लिये सिर्फ़ राष्ट्रवाद की बात करते है। बैठक को पूर्व केंद्रीय मंत्री व आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया ने संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा केवल वोट की राजनीति करती है, उसकी कथनी और करनी में अंतर है। भाजपा आदिवासी वर्ग को गुमराह व भ्रमित करने के लिए आदिवासी नेताओ के दिखावटी कार्यक्रम, जयंती, पुण्यतिथि मनाने का ढोंग करती हैं। चुनाव नजदीक आते ही उन्हें आदिवासी समाज की याद आने लगती है। भाजपा ने हमेशा आदिवासी वर्ग का अपमान किया है। आदिवासी वर्ग एकजुट है और आने वाले चुनाव में भाजपा को अपनी ताकत का भान करा देगा। भाजपा को अब मुंह की खानी पड़ेगी।

बैठक के दौरान उमरिया के गौडवाना गणतंत्र पार्टी के पदाधिकारी रामबगस सिंह मरकाम और हरिहर सिंह श्याम ने कमलनाथ जी की उपस्थिति में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। पूर्व मंत्री बाला बच्चन, ओंकार सिंह मरकाम, कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष अजय शाह, हनी बघेल, विक्रांत भूरिया, हीरालाल अलावा, झूमा सोलंकी, सहित अन्य आदिवासी नेताओं और प्रदेश भर से आये पदाधिकारियों ने इस बैठक को संबोधित किया। बैठक में प्रदेश भर से आदिवासी वर्ग के विधायक, बड़ी संख्या में अनुसूचित जनजाति विभाग के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे। बैठक का संचालन प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री व कार्यालय प्रभारी राजीव सिंह ने किया।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular