Indore: CM के उद्बोधन से पहले हाथों में तख्तियां लेकर पहुंचे युवा, किया हंगामा, भाजपा नेताओं ने संभाला मामला

हमारे सपनो का शहर इंदौर कल आज और कलकार्यक्रम में पहुचे युवा मांगा रोजगार। लहराई अपनी मांगों की तख्तियां लहराई.

आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर पहुंचे हैं वह यहां पर हमारे सपनों का शहर इंदौर कल आज और कल विषय पर सभी को संबोधित करने के लिए पहुंचे हैं. लेकिन मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने से पहले यहां बड़ा हंगामा देखा गया और कई युवा रोजगार की मांग करते हुए कार्यक्रम में पहुंच गए.

कार्यक्रम स्थल पर बड़ी संख्या में युवा और महिलाएं नौकरियों की मांग करते दिखाई दिए इनके हाथों में तख्तियां थी. यहां पर कुछ ऐसे लोग भी पहुंचे थे जिनके परिजनों की मृत्यु कोरोनावायरस से हो गई है और उन्हें प्रशासन की ओर से नौकरी देने का आश्वासन दिया गया है. मामले को देखते हुए वरिष्ठ नेता लोगों के बीच पहुंचे जहां उन्होंने वहां मौजूद महिलाओं के हाथों से तख्तियां वापस ली. मंत्री तुलसी सिलावट इन्हें समझाने के लिए इनके बीच पहुंचे और बात की.

Must Read- Durex ने इस अंदाज में Alia Bhatt को दी प्रेगनेंसी की बधाई, Viral हुई पोस्ट

इस दौरान कुछ लोग वहां पर कोरोना में अनाथ हो चुके बच्चों की शिक्षा का मुद्दा लेकर पहुंचे जिन्हें आकाश विजयवर्गीय ने समझाइश देते हुए कहा कि 2 बच्चों का मामला संज्ञान में आया था उनके लिए हामी भर दी गई है क्योंकि उनके माता-पिता दोनों ही नहीं है. कुछ बच्चे हैं जिनके एक पैरेंट हैं एक नहीं है उन पर भी हम विचार-विमर्श करने के बाद कुछ ना कुछ हल निकालेंगे. इस दौरान वहां मौजूद महिलाओं ने रोजगार संबंधी मुद्दा उठाया जिस पर नेता ने कहा कि अभी बच्चों का काम निपटाना प्रायोरिटी पर है. रोजगार के संबंध में भी बातचीत करने के बाद कुछ ना कुछ हल निकाला जाएगा.

जनप्रतिनिधियों द्वारा समझाएं जाने पर मौके पर मौजूद युवाओं और महिलाओं ने अपनी तख्तियां उन्हें सौंप दी. इस दौरान यह देखने में भी आया कि पुरुष पुलिसकर्मी महिलाओं के बैग की चेकिंग कर रहे थे. मामला शांत होने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और अपना उद्बोधन शुरू किया. इस दौरान उन्होंने इंदौर में शुरू किए गए कामों के अलावा किए जाने वाले कार्यों के बारे में जानकारी दी.