स्मार्ट मेप : अब 3 डी में देख सकेंगे इंदौर की ऐतिहासिक धरोहर..

इंदौर : स्मार्ट सिटी सीईओ श्री ऋषभ गुप्ता ने बताया कि आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा आजादी के 75 वर्ष को अमृत महोत्सव के रूप में मनाते हुए, 21 जनवरी 2022 को ओपन डाटा दिवस घोषित किया गया है, इसी क्रम में सांसद श्री शंकर लालवानी, संभागायुक्त व निगम प्रशासक डॉ. पवनकुमार शर्मा की उपस्थिति में इंदौर स्मार्ट सीड इनक्यूबेशन सेंटर, तृतीय तल, इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर बिल्डिंग में ओपन डाटा दिवस पर कार्यशाला आयोजित की गई, इसके साथ ही इस अवसर पर अतिथियो द्वारा इंदौर स्मार्ट मेप लांच किया गया।

इस अवसर पर स्मार्ट सिटी सीईओ श्री ऋषभ गुप्ता, अधीक्षण यंत्री श्री डीआर लोधी, स्वास्तिका इंवेस्टमेंट लिमिटेड के श्री सुनिल नायती, डीआईओ एनआईसी के श्रीमती सुनिता जैन, स्टार्टअप फाउण्डर के श्री सिद्धार्थ जैन, मेडिकेप युनिवरसिटी के डॉ. अंकुर सक्सेना, आईसीटी कंसलटेंट श्री ओम दांगी, लुटेल स्टार्टअप के फाउण्डर श्री गोंविंद अग्रवाल, श्री यशवंत सुतार, स्टार्टअप कंपनी के प्रतिनिधि, श्री आदित्य व्यास, उपयंत्री श्री अभिनव राव व स्टुडेंट उपस्थित थे।इंदौर स्मार्ट सिटी द्वारा आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार के निर्देशानुसार 21 जनवरी 2022 को ओपन डाटा दिवस हेतु स्टार्टअप और इकोसिस्टम इनेबलर्स हेतु डाटा के लाभ और यूज केसेस हेतु आयोजित कार्यशाला में शहर के नागरिकों को ओपन डाटा के उपयोग से नगर पालिका की सेवाओं की जागरूकता बढ़ाने एवं नगरीय प्रशासन को जन उपयोगी नीतियों एवं योजनाओं का क्रियान्वयन करने के संबंध में अतिथियों द्वारा विस्तार से चर्चा की गई।

सांसद श्री शंकर लालवानी ने कहा कि मान. प्रधानमंत्री जी का धन्यवाद जिन्होने भारत में आज 21 जनवरी को डाटा दिवस बनाया जा रहा है, डाटा जीवन के हर क्षेत्र में आवश्यक है, किसी भी तरह की आवश्यक जानकारी डाटा के माध्यम से प्राप्त होने पर हम बेहतर निर्णय ले सकते है, पहले डाटा लेने के लिये विभिन्न माध्यमो से संग्रहित किया जाकर किसी प्रकार का कार्य प्रारभ किया जा सकता था, जिसमें समय अधिक लगता था, किंतु अब डाटा एक स्थान पर ऑन लाईन संग्रहित होने से कार्य तेजी से बढेगा। इसके साथ ही आज डिजिटल इंदौर स्मार्ट मेप की लॉचिंग की गई है, यह हमारे लिये बहुत ही आवश्यक थी, कि इंदौर के डिजिटल इंदौर स्मार्ट मेप के माध्यम से नागरीको की आवश्यक जानकारी मिनिटो में उपलब्ध कराएगा।संभागायुक्त व निगम प्रशासक डॉ. पवनकुमार शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि ओपन डाटा के साथ ही जरूरी है कि सही डाटा का प्रोडक्शन और डाटा का अपडेटेशन। पहले जिस प्रकार से किसी जमीन के खसरे की जानकारी के लिये संबधित पटवारी से जानकारी प्राप्त की जाती थी किंतु अब सिंगल क्लीक के माध्यम से शासकीय वेबसाईड पर खसरे की संपूर्ण जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

इसके साथ ही हितग्राहियो की जानकारी डाटा के माध्यम से ऑन लाईन संग्रहित होने से जनकल्याणकारी योजनाओ के पात्र हितग्राहियो को सिंगल क्लीक के माध्यम से लाभ पहुंचाया जाता है। इसके साथ ही इंदौर स्मार्ट मेप में इंदौर के समस्त क्षेत्रो व आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए, बनाया है जिससे की नागरिको को शहर के स्थाना के साथ ही आवश्यक सेवाओ की जानकारी सुगमता से प्राप्त होगी।

स्मार्ट सिटी सीईओ श्री ऋषभ गुप्ता ने बताया कि इंदौर स्मार्ट मेप, इंदौर स्मार्ट सिटी की एक पहल है जो नागरिको, सरकारी एजेंसियों एवं व्यवसायों के लिए इंदौर के बारे में सूचनाओं के आदान-प्रदान करने के लिए एक एकीकृत जी.आई. एस. आधारित मानचित्र है, जो शहर के हित में भविष्य की योजनाओं एवं संपत्तियों के प्रबंधन हेतु स्थल चयन, पर्यावरण एवं कानूनी उपबंध, नियोजन के डिजाईन एवं विजुअलाईजेशन के संबंध में एक ही स्थान पर सूचनाओं के आदान-प्रदान का केन्द्र होगा।इंदौर शहर की प्राकृतिक एवं निर्मित संपत्तियों जैसे भवन, शहरीय सुविधाए जैसे- स्वास्थ्य, शिक्षा, परिवहन, सांस्कृतिक आदि की जानकारी संपर्क विवरण पारदर्शिता के साथ बहुमूल्य जानकारी इंदौर के स्मार्ट मेप पर प्रदर्शित होगी। इस बेसमेप पर रोड़ नेटवर्क, जल निकायों, पेड़ो एवं अन्य सुविधाओं जैसी अन्य जानकारियाँ भी विस्तृत रूप से उपलब्ध होगी।

इंदौर स्मार्ट मेप, शासकीय विभागों एवं प्राधिकारियों को शहरी विकास की गतिविधियों जैसे अर्बन प्लानिंग एवं डेव्हलपमेंट, डिजास्टर मेनेजमेंट, इंफ्रास्ट्रक्चर असेट मेनेजमेंट, ट्रेफिक मेनेजमेंट, रूट प्लानिंग, सिटी काईम मेनेजमेंट, ट्राफिक वायलेशन, आईडेंटिफिकेशन ऑफ पॉल्यूशन तथा हाई नॉईस इमिशन, ट्रेफिक रूट प्लानिंग एवं रिवर फ्रंट डेव्हलपमेंट आदि के संबंध में नीति निर्धारण / निर्णय लेने में सहायक होगा तथा नागरिकों को दैनिक आयोजनों के बारे में जागरूक करने में साथ ही किसी आपातकालीन सूचनाओं की उद्घोषणा से अवगत करवाएगा, जो उन्हें आवश्यक सावधानी बरतने में मदद करेगी।

इंदौर स्मार्ट मेप पर ऐतिहासिक धरोहरों जैसे- राजवाड़ा गांधी हॉल, लालबाग पैलेस, व्हाईट चर्च, खजराना मंदिर आदि को 3 डी मॉडल में देखा जा सकेगा।

इंदौर स्मार्ट मेप को वेबसाईट www.indoresmartmap.org पर किसी भी नागरिक द्वारा निशुल्क एक्सेस किया जा सकेंगे एवं अपने बहुमूल्य सुझाव साझा कर सकेंगे, जो भविष्य में वेबसाईट के विकास में सहायक सिद्ध होगें।