इंदौर: चुनाव में हार के बाद निराश दिखे संजय शुक्ला, बोले- गलती सुधारने का मिला मौका

महापौर चुनाव में हार मिलने के बाद विधायक संजय शुक्ला ने मीडिया से बातचीत की.

Indore: इंदौर नगर निगम चुनाव में भाजपा प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव ने 132956 मतों से जीत हासिल की है. कांग्रेस के संजय शुक्ला को उन्होंने भारी मतों से हराते हुए महापौर पद का ताज अपने नाम किया. पुष्यमित्र भार्गव के जीत के बाद भाजपा खेमे में जश्न का माहौल देखा जा रहा है और कार्यकर्ता ढोल धमाकों के साथ जीत की खुशी मनाते दिखाई दे रहे हैं.

85 वार्ड की स्थिति पूरी तरह से साफ हो चुकी है. 66 वार्ड में भाजपा 16 पर कांग्रेस और 3 पर अन्य ने जीत हासिल की है. इससे पहले 2015 के नगर निगम चुनाव में भाजपा को 65 सीटें मिली थी.

महापौर चुनाव में हार मिलने के बाद संजय शुक्ला का रिएक्शन सामने आया है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अगले साल विधानसभा का चुनाव होने वाला है. मैं विधानसभा क्षेत्र नंबर 1 से विधायक हूं. नगर निगम चुनाव में मुझे अपने ही वार्ड से हार का सामना करना पड़ा. मिस्त्री कारणों पर मंथन करूंगा कि आखिर क्या गलती हुई तो हमें हार का सामना करना पड़ा. उन्होंने कहा कि एक दौर से ही अच्छा भी है कि मुझे आगामी विधानसभा चुनाव से पहले मेरी गलती सुधारने का मौका मिला है.