इंदौर(Indore) : राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान वीर सावरकर के खिलाफ बयान देकर विपक्ष को नया मौका दे दिया, इसलिए कल पत्रकार वार्ता में जयराम रमेश ने राहुल को तीन बार रोका। उनसे यह तक कह दिया कि छोटे जवाब दे। कल सांवेर के पहले विधायक संजय शुक्ला के फार्म हाउस पर हुई मीडिया से बातचीत के दौरान साफ दिखाई दिया कि वीर सावरकर के बयान के बाद राहुल के बोलने को लेकर कांग्रेस नेता चिंतित हैं। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कोई विवादित बयान को भाजपा में हवा ना दे, इस बात का पूरा ध्यान रखा जाता है।

पत्रकार वार्ता को संचालित कर रहे जयराम रमेश ने पहले ही तय कर दिया था कि कौन-कौन पत्रकार सवाल करेंगे। पहले मध्यप्रदेश के पत्रकारों को मौका दिया गया। उसके बाद दिल्ली से आए पत्रकारों को सवाल पूछने दिए। प्रदेश के पत्रकारों के नाम ज्यादा थे। जो समय कम होने के कारण कम कर दिए। पहले ही तय हो चुका था कि किस तरह के सवाल आएंगे और उनके जवाब क्या देना होंगे। जयराम रमेश ने पत्रकार वार्ता शुरू होने के पहले ही सारी बातें पत्रकारों को बता दी थी।

इसके अलावा पत्रकार वार्ता के दौरान जयराम ने यह भी कि इशारा कर दिया कि वह तो सिर्फ याने नरेंद्र मोदी और अमित शाह तो पत्रकारों को के सवालों के जवाब नहीं देते हैं। राहुल गांधी अपनी तरफ से कुछ नहीं कहेंगे। जो पत्रकार सवाल करेंगे उसके जवाब ही देंगे। जयराम रमेश ने राहुल को सवाल-जवाब के दौरान तीन बार टोका बोले छोटे जवाब दें और किसी पत्रकार को दूसरा सवाल नहीं करने दिया गया। इसके साथ ही सप्लीमेंट्री सवाल भी नहीं करने दिए गए।

यही कारण है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत और पायलट के बीच चल रहे विवादों के बयान के सवाल को लेकर राहुल ने सधा हुआ जवाब दिया। इसके अलावा राहुल जब लंबे उत्तर दे रहे थे तब भी जयराम रमेश ने टोक दिया। एक बार तो राहुल को यह कहना पड़ा जयराम जी आपकी अनुमति हो तो मैं थोड़ा डिटेल में जवाब दे दूं। पत्रकार वार्ता में माइक सिस्टम खराब था तो राहुल गांधी ने कहा पास में बैठे कमलनाथ से कहा कि कमल यहां पर कुछ डिस्टरबेंस हो रहा है।

कमल जी बोलने की बजाय कमल बोलने को लेकर मंच पर बैठे नेता से लेकर सभी पत्रकार आश्चर्यचकित रह गए। आखरी में जयराम रमेश ने कुछ पत्रकारों के सवाल रहने के कारण राहुल से कहा कि हम पत्रकार वार्ता का समय पांच मिनिट बढ़ा देते हैं। छोटे-छोटे सवाल और रह गए हैं तो राहुल ने कहा कि दो सवाल और ले लीजिए। आखरी में जयराम रमेश ने कहा कि सभी पत्रकार बैठे रहे। राहुल गांधी एक सामूहिक फोटो खींचवाएंगे। हालांकि उस दौरान धक्का मुक्की हो गई। फिर भी कुछ फोटो हुए और राहुल गांधी चल दिए।