इन्दौर (Indore News) : राजवाडा के साडी व्यापारी पलास जैन पिता राजेन्द्र जैन निवासी 582 एम जी रोड इन्दौर ने थाना तुकोगंज मे रिपोर्ट किया था कि एम जी रोड स्थित उनके घर में घरेलू काम करने वाला नौकर घर को सूना पाकर उनके घर से सोना,चाँदी व नगदी चुराकर ले गया । फरियादी की रिपोर्ट पर से थाना तुकोगंज मे अपराध क्रमांक 496/2021 धारा 381 भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया । इन्दौर शहर में हो रही चोरी,नकबजनी जैसी घटनाओ पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक महोदय, इन्दौर शहर मनीष कपूरिया द्धारा पुलिस अधीक्षक महोदय, जिला इन्दौर (पूर्व) आशुतोष बागरी को निर्देशित किया गया था, जिनके पालन मे अति.पुलिस अधीक्षक महोदय, जोन-1 जिला इन्दौर (पूर्व) जयवीर सिंह भदौरिया, नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली हरीश मोटवानी को कार्य योजना तैयार करने हेतु निर्देशित किया था जिनके द्वारा निरीक्षक कमलेश शर्मा, थाना प्रभारी तुकोगंज इन्दौर पर कार्य योजना पर अमल देने हेतु समझाया गया ।

उक्त तारतम्य में तुकोगंज पुलिस टीम द्धारा संदेही नौकर की तलाश शुरु की गयी । इस दौरान काफी संदिग्थ लोगो से पूछताछ की गयी । घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे देखे गये । इस तरह की घटना को अंजाम देने वाले पूर्व सजायाबी बदमाशो से पूछताछ की जाकर उनकी अपराधिक गतिविधियो पर नजर रखी गयी । इसी दौरान मुखवीर सूचना पर दिनांक 05-10-2021 को संदिग्ध नौकर सुनील पिता रमेश कीर निवासी ग्राम कोटडाबाडा तहसील गढी थाना लोहारिया जिला बांसवाडा राजस्थान व उसके साथी दिनेश उर्फ दिलीप पिता लालजी कीर निवासी सदर को मय मौटर सायकल के नेहरु पार्क के पास से पकडा जिनसे पूछताछ करने पर उसके द्धारा अपने दो और अन्य साथियों महेन्द्र व विष्णु के साथ मिलकर उक्त घटना को अंजाम देना स्वीकार किया, जिनके पास से चोरी किये गये सामान में से 171 ग्राम सोना कीमती करीबन 3,50,000/- रुपये व नगदी 50000/- रुपये व एक मोटर सायकल जप्त की गयी व अन्य आरोपियानों के संबंध में पूछताछ की जा रही है ।

आरोपियों ने पूछताछ पर बताया कि वह पाँश कालोनी में घर में नौकरी के बहाने जाते और नौकरी के दौरान मौका मिलने पर अपने अन्य साथियों को बुलाकर घर से जेवर,नगदी व अन्य कीमती सामान चोरी कर भाग जाते । सभी आरोपियान पूर्व में भी चोरी के मामले में गिरफ्तार हो चुके है । फरियादी पलास के घर पर पहिले विष्णु काम करता था परिवार को शंका होने पर उसे नौकरी पर निकाल दिया था तब उसकी जगह सुनील नौकरी करने लगा घटना वाले दिन पलाश घर पर नही था माँ हीरामणी जैन अचानक तवियत खराब होने पर डाक्टर के पास गयी थी इसी का फायदा उठाकर सुनील ने अपने साथियों को बुलाकर घटना को अंजाम देकर फरार हो गया । चोरी के पैसे से सुनील ने दो लाख कीमत की पल्सर बाईक भी खरीदी थी फरार आरोपी महेन्द्र व विष्णु के पास भी चोरी का काफी माल है जिनकी तलाश जारी है ।

उक्त सराहनीय कार्य मे निरीक्षक कमलेश शर्मा, थाना प्रभारी तुकोगंज व उनकी टीम के उनि आर एल मिश्रा, कार्यवाहक प्रआर 1221 किशोर सांवलिया, कार्यवाहक प्रआर 1500 लोकेश गाथे, आरक्षक 3414 रामकृष्ण पटेल, आरक्षक 2362 शैलेन्द्र चौहान व आरक्षक 3635 अरुण शर्मा, पुलिस अधीक्षक पूर्व साइबर सेल के आरक्षक विकास ,आरक्षक अमित,आरक्षक हेमंत की अहम भूमिका रही है । उक्त सराहनीय कार्य के लिये पुलिस अधीक्षक महोदय जिला इन्दौर पूर्व द्वारा टीम को दस हजार रुपये के नगद पुरुष्कार से पुरुष्कृत किया गया है ।