Homeइंदौर न्यूज़Indore News : GPF राशि के भुगतान के लिए रिश्वत की मांग,...

Indore News : GPF राशि के भुगतान के लिए रिश्वत की मांग, आरोपी गिरफ्तार

Indore News : आरोपी अखिलेश पगारे सहायक ग्रेड 2 उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ग्राम सीन गुन तहसील कसरावद जिला खरगोन द्वारा सहायक शिक्षक रमेश चंद्र मुजाल्दे की सेवानिवृत्ति के उपरांत मिलने वाले GPF राशि के भुगतान के लिए रुपए 100000 की रिश्वत की मांग की थी।

Indore News : आरोपी अखिलेश पगारे सहायक ग्रेड 2 उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ग्राम सीन गुन तहसील कसरावद जिला खरगोन द्वारा सहायक शिक्षक रमेश चंद्र मुजाल्दे की सेवानिवृत्ति के उपरांत मिलने वाले GPF राशि के भुगतान के लिए रुपए 100000 की रिश्वत की मांग की थी। जिसके बाद आवेदक ने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ इंदौर में शिकायत दर्ज करवाई।

बताया जा रहा है कि आवेदक की शिकायत पर तस्दीक उपरांत आज एक ट्रैप दल का गठन किया गया है। ऐसे में उप पुलिस अधीक्षक अनिरुद्ध वाधिया के नेतृत्व में निरीक्षक विनोद सोनी ,निरीक्षक कैलाश पाटीदार ,उप निरीक्षक राजेश गोयल ,प्रधान आरक्षक हरीश आरक्षक ,अजय सोलंकी आरक्षक ,रणजीत आरक्षक अजय चौबे ,आरक्षक प्रदीप मिश्रा ,आरक्षक नीलम व आरक्षक स्वाति टीम में रखे गए।

ट्रैप दल कार्रवाई हेतु कसरावद पहुंचा फरियादी ने आरोपी अखिलेश पगारे से रिश्वत के पैसे के संबंध में दूरभाष पर चर्चा की तब ही आरोपी अखिलेश पगारे ने रिश्वत की राशि प्राप्त करने के लिए कसरावद बस स्टैंड पर आने को कहा। लेकिन कुछ समय पहले आरोपी अखिलेश पगारे पिता लखन लाल पगारे उम्र 48 वर्ष निवासी अरिहंत नगर कसरावद और आरोपी शेरू मालाकार पिता तुलाराम मालाकार उम्र 47 वर्ष निवासी अरिहंत नगर कसरावद जिला खरगोन दोनों कसरावद बस स्टैंड पर आए।

Must Read : अब ये महिला आरक्षक करवा सकेगी लिंग परिवर्तन, गृह विभाग ने दी अनुमति

आरोपी अखिलेश ने रिश्वत की राशि फरियादी रमेश चंद्र से उसके साथी शेरू मालाकार को देने का बताया। ऐसे में फरियादी ने जैसे ही रिश्वत की राशि शेरू मालाकार को प्रदान की, आरोपी अखिलेश पगारे ने शेरू मालाकार से रिश्वत की राशि प्राप्त कर अपनी जेब में रखी फरियादी के इशारा करते ही इन दोनों आरोपियों को आज दिनांक 30 11 2021 को रिश्वत की राशि रुपए 50000 नगद प्राप्त करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है।जानकारी के मुताबिक, पुलिस दल द्वारा कसरावद में कार्रवाई जारी है।

दरअसल, आरोपी अखिलेश पगारे के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम संशोधित 2018 की धारा 7 एवं आरोपी शेरू मालाकार के विरुद्ध धारा 120 भादवी के अंतर्गत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। कार्रवाई जारी है, आरोपी अखिलेश पगारे द्वारा सेवानिवृत्त सहायक शिक्षक रमेश चंद्र मुजाल्दे से पूर्व में भी रुपए 130000 की राशि रिश्वत के रूप में प्राप्त की जा चुकी है एवं फिर से रुपए 100000 रिश्वत की मांग की गई थी जिस पर से आज उसे रंगे हाथ रुपए 50000 की रिश्वत राशि प्राप्त करते हुए गिरफ्तार किया गया है।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular