इंदौर : शहर में दौड़ेगी इलेक्ट्रिक बसें, मंत्रियों ने दिखाई हरी झंडी

- मंत्री व महापौर द्वारा रूपये 81 करोड के लोकार्पण व रूपये 43.68 करोड के भूमिपूजन कार्य का शुभारंभ - शहर विकास में हमेशा सहयोग मिलता रहेगा- मंत्री श्री सिंह

0
26
patvari

इन्दौर, दिनांक 13 नवंबर 2019। शहर में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत किए जा रहे हैं विभिन्न विकास कार्य एवं जीर्णोद्धार कार्य के साथ-साथ शहर के विभिन्न स्थानों पर विकास कार्यों का भूमिपूजन, लोकार्पण एवं शुभारंभ नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह, युवा कल्याण उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, महापौर एवं विधायक मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ द्वारा खजराना गणेश मंदिर परिसर मंे दीप प्रज्वलित कर किया गयां।

इस अवसर पर विधायक संजय शुक्ला, विशाल पटेल, पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल, सभापति अजयसिंह नरूका, नेता प्रतिपक्ष फौजिया शेख अलीम, कांग्रेस नगराध्यक्ष विनय बाकलीवाल, महापौर परिषद सदस्य बलराम वर्मा, अश्विन शुक्ल, सुधीर देडगे, पार्षद रूबीना इकबाल खान, उस्मान पटेल, रत्नेश बागडी, भगवानसिंह चैहान, संजय कटारिया, मुबारीक मंसुरी, जुलेखा कादरी, चन्द्रकला मालवीय, अन्य अतिथिगण व बडी संख्या में गणमान्य नागरिकगण उपस्थित थे। इस अवसर पर लगभग रूपये 36 करोड की लागत से 40 इलेक्टिक बसो को भी अतिथियो द्वारा हरी झंडी दिखाकर लोकार्पित किया गया तथा नागरिको में लोक परिवहन के प्रति जागरूकता लाने हेतु मंत्री सिंह, पटवारी व महापौर गौड व अन्य अतिथियो द्वारा सफर भी किया गया।

इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री सिंह ने कहा कि प्रदेश के मान. मुख्यमंत्री जी के आव्हान पर पर्यावरण संरक्षण को दृष्टिगत रखते हुए, आज इंदौर में 40 इलेक्टिक बसो का लोकार्पण किया जा रहा है, इंदौर बहुत ही बडा शहर है, जहां पर इतनी संख्या में इलेक्टिक बसे लोकार्पित कि गई है। आगामी माह में प्रदेश के अन्य शहरो में भी 350 से अधिक नई इलेक्टिक बसे चलाई जावेगी। इस अवसर पर उन्होन शहर के समस्त नागरिको से अनुरोध किया है कि वह सभी पब्लिक टांसपोर्ट का उपयोग करे। उन्होने यह भी कहा कि इलेक्टिक बसो के साथ-साथ महिलाओ के लिये इलेक्टिक रिक्क्षा व आॅटो भी चलाई जाने की योजना के क्रम में अभी 100 इलेक्टिक रिक्क्षाए महिलाओ के लिये चलाई जा रही है। मान. मुख्यमंत्री जी की सोच है कि वह प्रदेश के शहरो में इलेक्टिक बस के साथ-साथ इलेक्टिक रिक्क्षा/आॅटो चलाई जावेगी।

मंत्री सिंह ने कहा कि आगामी माह में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 शुरू होगा, आप सभी इंदौरवासी इसमें सहयोग करे। आप सभी डोर टू डोर कचरा संग्रहण कार्य में सहयोग करे, ताकि इंदौर चैथी बार स्वच्छता में नंबर वन शहर बने। इंदौर शहर के विकास के लिये मध्य प्रदेश सरकार सदैव तत्पर पर है, विकास कार्य के लिये किसी प्रकार के सहयोग के साथ-साथ पैसे की कोई कमी नही आएगी। निगम की क्षतिपूर्ति की बकाया राशि के साथ-साथ 14 वित्ते आयोग की राशि, मुख्यमंत्री अद्योसंरचना विकास व अन्य योजनाओ की बकाया राशि जल्द से जल्द राज्य सरकार नगर निगम इंदौर के देगा।

खेल व युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने कहा कि इंदौर वाकई में स्वच्छ व सुंदर शहर है और मुझे गर्व है कि मै इंदौर में रहता हॅू। जब भी मे शहर से बाहर जाता हॅू तो स्वच्छता की बात पर इंदौर का नाम जरूर आता है। दिल्ली शहर में प्रदुषण का यह आलम है कि सांस लेने भी नागरिको को दिक्कत आ रही है। हमारे प्रदेश के मान. मुख्यमंत्री जी की सोच है कि पर्यावरण का संरक्षण किया जाकर पेटोल व डीजल के वाहनो का उपयोग कम करते हुए, इलेक्टिक बसो का उपयोग किया जावे, इसी क्रम में इंदौर शहर में 40 इलेक्टिक बसो का आज लोकार्पण किया गया है। इंदौर शहर के विकास में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नही आने देगे, जो भी निगम की बकाया राशि है उसे हम जल्द से जल्द देगे।

सभापति नरूका ने कहा कि शहर में लोक परिवहन के क्रम में आज इलेक्टिक बसो का लोकार्पण किया गया है, शहर के बेहतर लोक परिवहन के साधन मिले है। इस मौके पर सभापति श्री नरूका द्वारा मान. मंत्री जी से निगम की बकाया क्षतिपूर्ति की राशि की भी मांग की गई।

इस अवसर पर महापौर व विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड ने कहा कि इंदौर शहर स्वच्छता में तीन बार नंबर वन स्वच्छ शहर बना है, और इस बार स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 में चैथी बार भी नंबर वन रैकिंग प्राप्त करेगा। इस हेतु महापौर जी द्वारा मान. नगरीय प्रशासन मंत्री जी से स्वच्छ अभियान के लिये 100 करोड रूपये की मांग की गई, साथ ही निगम की चुंगी क्षतिपूर्ति की रूपये 217 करोड की बकाया राशि भी उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया। उन्होने कहा कि आज एआईसीटीसीएल द्वारां 40 इलेक्टिक बसो का भी लोकार्पण किया गया है, हमारे द्वारा सर्वे कराया गया है जिसमें हमारे द्वज्ञरा व्यापारियो से अनुरोध किया जावेगा कि वह शहर में चलाई जा रही लोक परिवहन की बसो का उपयोग करे, ताकि यातायात भी प्रभावित नही हो और पार्किंग की समस्या से भी निजात मिल सके।

महापौर गौड ने इस अवसर पर कहा कि आज शहर को बडी सौगात मिली है, आज शहर के विभिन्न क्षेत्रो में करोडो के विकास कार्यो जिनमें लगभग 81 करोड की लागत से लोकार्पण व लगभग रूपये 43.68 करोड की लागत से भूमिपूजन सहित कुल 125 करोड की लागत से विकास कार्य हुए है, जिसके तहत स्मार्ट सिटी डेव्हलपमेंट लिमिटेड द्वारा कृष्णपुरा छत्री से गौतमपुरा तक 800 मीटर लंबाई व 18 मीटर चैडाई के रोड का राशि रूपये 8.53 करोड की लागत से भूमिपूजन, कबीटखेडी एसटीपी के समीप रूपये 24.47 करोड की लागत से स्लज हाईजिनेशन प्लांट का भूमिपूजन उपरोक्त प्लांअ भारत में द्वितीय गामारेडिएशन पर आधारित प्लांट है, जो कि स्लज प्रोसेस कर बायो कम्पोस्ट में परिवर्तित करने की क्षमता के साथ ही 100 टन प्रतिदिन कम्पोस्ट के विक्रय से 5 वर्ष में अनुमानित आय रूपये 20.67 करोड अर्जित करेगा। साथ ही श्री खजराना गणेश मंदिर पर राशि रूपये 2.80 करोड की लागत से प्रवेश द्वारा का भूमिपुजन किया गया।

इसके साथ ही जलयंत्रालय विभाग द्वारा वार्ड 11 भागीरथपुरा में रूपये 1.53 करोड, वार्ड 12 व 17 में महाराणा प्रताप नगर में रूपये 3.19 करोड व वार्ड 38 व 39 शाहीबाग व तंजीम नगर में रूपये 1.14 करोड की लागत से पानी की पाईप लाईन डालने का कार्य का भूमिपूजन किया गया, जिसके तहत गंदे पानी की समस्या से मुक्ति होगी, पाईप लाईन डालने के कार्य में टेस्टिंग, कमिशनिंग व सर्विस कनेक्शन के साथ चेम्बर निर्माण करने व अन्य संबंधित कार्य किये जावेगे। वार्ड 53 में मुस्लिम कब्रिस्तान नाल के किनारे ध्वस्त स्टोन मेसनरी वाॅल के स्थान पर रूपये 2.02 करोड की लागत से नाले के किनारे रिटेनिंग वाॅल निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया गया। साथ ही स्चच्छ भारत मिशन के तहत लगभग रूपये 20 करोड की लागत से 300 टन प्रतिदिन पुर्णतया आॅटोमेटिक डाय वेस्ट प्रोसेसिंग प्लांट का भी लोकार्पण किया गय।

इसके साथ ही स्मार्टसिटी डेव्हलपमेंट लिमिटेड के अंतर्गत रूपये 5.94 करोड की लागत से कबीटखेडी एसटीपी के समीप सोलर प्लांट का निर्माण कार्य का लोकार्पण किया गया, उक्त प्लांअ से 1500 केव्ही सौर उर्जा उत्पादन के साथ-साथ 24 लाख युनिट प्रतिवर्ष विद्युत की प्राप्ति होगी एवं प्रतिमाह 10 लाख रूपये विद्युत बचती भी होगी, प्लांट की लाइफ 25 वर्ष है, जो कि 4.50 एकड क्षेत्र में 4286 पैनल का निर्माण भी किया जावेगा। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत रूपये 5.42 करोड की लागत से हरिराव होल्कर छत्री का जीर्णोद्धार, रूपये 10.20 करोड की लागत से नंदलालपुरा सब्जी मंडी शाॅपिंग काॅम्पलेक्स में 100 दुकानो व 112 ओटले का निर्माण कार्य का लोकार्पण किया गया। कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय में रूपये 1.96 लाख की लागत से 24 मीटर चैडा व 15 मीटर उंचाई का नवनिर्मित मुख्य प्रवेश द्वार का लोकार्पण किया गया, उक्त प्रवेश द्वार में ही टिकिट घर, कन्टोल रूम, अमानती सामान घर, टर्न स्टाईल गेट की व्यवस्था भी रहेगी। इसके साथ ही प्राणी संग्रहालय मेें रूपये 1.45 करोड की लागत से 90 मीटर लंबाई, 15 मीटर चैडाई व प्राकृतिक चटटानो के स्वरूप में नवनिर्मित स्नेक हाउस (सांप घर) का लोकार्पण किया गया।

नेता प्रतिपक्ष श्रीमती फौजिया शेख अलीम ने इस अवसर पर कहा कि शहर तेजी से बढ रहा है, और इंदौर का भी विकास तेजी से किया जा रहा है, राज्य सरकार द्वारा विकास कार्यो में सहयोग मिल रहा है और यह सहयोग सदा मिलता रहे यही आशा है। आज करोडो के विकास कार्यो के भूमिपूजन व लोकार्पण के अवसर पर शहरवासियो के बधाई व शुभकामना ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here