इंदौर(Indore) : वर्तमान समय में साइबर फ्रॉड, महिला अपराध एवं अपराधों से सुरक्षा एवं इनसे बचाव के तरीकों के प्रति लोगों में जागरूकता लाने एवं नशे के दुष्परिणाम के प्रति लोगों को सचेत करते हुए नशे की लत से लोगों को दूर रखने के उद्देश्य से पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र एवं अति. पुलिस आयुक्त (अपराध एवं मुख्यालय)  राजेश हिंगणकर व अति. पुलिस आयुक्त (का. व्य. ) मनीष कपूरिया के निर्देशन में इंदौर पुलिस द्वारा लोगों को इन अपराधों के बारेँ में सामाजिक जागरूकता लाने के लिए निरंतर रूप से विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।

इसी कड़ी में पुलिस उपायुक्त इंदौर जोन 3  धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया के मार्गदर्शन में कल दिनांक 20.11.22 को रात्रि में पुलिस थाना पलासिया थाना प्रभारी संजय सिंह बैंस अपनी टीम के साथ गीता भवन क्षेत्र में हॉस्टल्स में रहने वाली छात्राओं के बीच पहुंचकर उन्हें साइबर अपराधों, महिलाओं एवं बच्चियों के विरुद्ध होने वाले अपराधों व इनसे बचाव के तरीके एवं नशे से दूर रहने के लिए नशे के दुष्परिणामों आदि के संबंध में जागरूक किया गया।

Read More : Mukesh Ambani बने नाना, बेटी Isha ने दिया जुड़वा बच्चों को जन्म

उन्होनें बच्चियों को बताया गया कि किस तरह असामाजिक तत्व सोशल मीडिया के जरिए संपर्क करते हैं और धीरे-धीरे दोस्ती बढ़ाते हैं और फिर घुमाने फिराने ले जाते हैं और इसकी आड़ में शोषण करते हैं। उन्होंने सभी से कहा कि यदि आपसे जाने अनजाने कोई गलती हो भी जाती है तो इसे अपने माता-पिता से खुल कर बताना चाहिए, उसे छुपाकर और ब्लैक मेलिंग के चुंगल में नहीं फंसना चाहिए।

बच्चियों को यह भी बताया गया कि आप लोग दूर से पढ़ने आए हैं माता पिता दूर रहते हैं इसलिए पुलिस आपकी लोकल गार्जियन है तो किसी भी तरह की समस्या हो तो आप हमसे शेयर कर सकते हैं। आजकल के बढ़ते कैफे/पब कल्चर पर भी उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे यहां से शुरुआत होकर युवा नशे की गर्त में पहुंच जाते हैं इसलिए सावधान रहें और किसी भी चीज की आदत ना बनाएं।

Read More : MP Weather : प्रदेश के इन जिलों में बढ़ने लगी है कंपकंपी, पहनना पड़े गर्म कपड़े, जानिए मौसम का पूर्वानुमान

और इन्हीं बुरी आदत के कारण खर्चे बढ़ जाने के कारण चोरी लूट आदि विभिन्न प्रकार की अवैधानिक गतिविधियों में संलिप्त हो जाते हैं। साथ ही उन्हें विभिन्न प्रकार के साइबर फ्रॉड और सोशल मीडिया के द्वारा होने वाले अपराधों के बारे में बताते हुए इनसे बचने के लिए सावधानीपूर्वक इनका इस्तेमाल करने के बारे में भी जानकारी दी गई।