देश

सऊदी अरब की कंपनी ने की जियो में हिस्सेदारी, 11, 367 करोड़ का किया निवेश

दुनियाभर मे कोरोना संकट और लॉकडाउन से इकोनॉमी-कॉरपोरेट के परेशान होने के बावजूद रिलायंस इंडस्ट्रीज की तकदीर में लगातार नकदी आ रही है। वही अब सऊदी अरब का पब्लिक इनवेस्टमेंट फंड (पीआईएफ) जियो में 2.32 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए 11,367 करोड़ रुपये का निवेश करेगा | पीआईएफ दुनिया के सबसे बड़े और प्रभावी सॉवरेन फंड में से है। सॉवरेन फंड किसी देश की सरकार के द्वारा संचालित होता है। पिछले 2 महीनो मे कई विदेशी कम्पनी रिलायंस की कम्पनी जियो मे 1 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा निवेश कर चुकी है। वही इस निवेश के बारे में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा, ‘रिलायंस में हमारा कई दशकों से सऊदी अरब के शाही परिवार से अच्छा रिश्ता रहा है। एक तेल इकोनॉमी से यह रिश्ता अब भारत के नए तेल इकोनॉमी डेटा आधारित को मजबूत करने जा रहा है जो कि पीआईएफ इनवेस्टमेंट के जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश से स्पष्ट है’। इसके पहले फेसबुक, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, केकेआर और मुबाडला जैसी विदेशी कंपनियां भी रिलायंस में निवेश का सौदा कर चुकी हैं। साथ ही जिओ प्लेटफार्म में कुल निवेश करीब 1,15,693.95 करोड़ रुपये का हो चुका है। इस तरह रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म्स का कुल 25 फीसदी हिस्सा विदेशी कंपनियों के हाथ में हो जाएगा। रिलायंस की योजना भी 25 फीसदी तक अपनी हिस्सेदारी बेचने की है।रिलायंस समूह इस तरह से अपने को कर्जमुक्त करना चाहता है।
केकेआर ने भी जियो प्लेटफॉर्म्स में 11,367 करोड़ रुपये के निवेश से 2.32 फीसदी हिस्सेदारी तो मुबाडला ने 9,093 करोड़ रुपये के निवेश से 1.85 फीसदी हिस्सेदारी लेने का ऐलान किया।

Related posts
देश

मुंबई के कई इलाकों भारी बारिश का दौर जारी, पीएम मोदी ने सीएम उद्धव ठाकरे से की बातचीत

मुंबई: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस…
Read more
breaking newsदेश

बेरुत में हुए विस्फोट से अब तक 113 लोगों की मौत, पूरे शहर की थर्रा गई इमारतें

बेरुत: जहा एक पूरा विश्व वैश्विक…
Read more
देश

मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेशवासियों से की अपील,कहा- कोरोना को परास्त करने में दें अपना सहयोग

इंदौर 5 अगस्त, 2020 मुख्यमंत्री शिवराज…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group