breaking newsscroll trendingtrendingअन्यदेश

कोरोना संक्रमित युवाओं में दिखे नई बीमारी के लक्षण, डॉक्टर्स की बढ़ी टेंशन

 

 

मुंबई: महाराष्ट्र पहले ही कोरोना संक्रमण के मामलेमे में सबसे ज्यादा प्रभावित है। महाराष्ट्र में भी सबसे ज्यादा प्रभावित मुंबई है लेकिन यहां कोरोना के साथ एक और बीमारी ने डॉक्टर्स की टेंशन बढ़ा दी है। दरअसल, मुंबई में कोरोना संक्रमित युवाओं में कावासाकी बीमारी के लक्षण मिल रहे है। ऐसे मामलों को लेकर पहली रिपोर्ट पश्चिमी मुंबई से आई है।

कोरोना वायरस के लक्षणों को लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक खोज में जुटे हुए है। कई बार इस बीमारी के अलग-अलग लक्षण देखने को मिले हो। यही कारण है कि इस महामारी को कई बार रहस्यमयी भी कहा गया है। अब मुंबई में युवाओं में कावासाकी बीमारी के लक्षणों ने डॉक्टर्स की टेंशन बढ़ा दी है।

मुंबई के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती 14 वर्षीय किशोरी में तेज बुखार और शरीर पर चकत्ते जैसे निशान उभर आए। डॉक्टरों के मुताबिक ये लक्षण कावासाकी बीमारी से मिलते-जुलते हैं। ये लक्षण उभरने के बाद किशोरी की तबीयत बिगड़ती चली गई और उसे आईसीयू वार्ड में शिफ्ट करना पड़ा। डॉक्टर उस किशोरी को इस वक्त कई दवाओं के मिश्रण के साथ टोसिलजैमैब दवा दे रहे हैं। किशोरी को कोविड-19 का संक्रमण उसके पिता से हुआ था।

इससे पहले अप्रैल महीने में अमेरिका, स्पेन, इटली और चीन में कम उम्र के संक्रमितों में ऐसे लक्षण उभरक आए थे। एक अमेरिकी स्टडी के मुताबिक अमेरिका में तकरीबन 58 कोरोना संक्रमितों में कावासाकी के लक्षण उभरे थे। कावासाकी बीमारी सामान्य तौर पर 5 साल से कम उम्र के बच्चों को ही ज्यादा होती है।