दिल्लीदेश

WHO के एग्जिक्यूटिव बोर्ड का चेयरमैन बना भारत, 194 देशों ने प्रस्ताव पर किया हस्ताक्षर

नई दिल्ली : विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के लिए एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल, भारत 22 मई को WHO के एग्जिक्यूटिव बोर्ड का चेयरमैन बनने जा रहा है.

भारत दुनिया के उन दस देशों में हैं, जिन्हें आने वाले तीन सैलून के लिए एग्जिक्यूटिव बोर्ड में जगह मिली है. इसी बीच WHO सदस्य देशों ने कोरोना संक्रमण रोकने में WHO की भूमिका की जांच कराने का फैसला किया है. जानकारी के अनुसार, लापरवाही के आरोपों के चलते यह जांच की जा रही है.

भारत WHO की इस बॉडी में जापान की जगह लेगा. फ़िलहाल जापान के डॉ हिरोकी नाकाटानी एग्जिक्यूटिव बोर्ड के सदस्य हैं. जानकारी के अनुसार, भारत के अलावा इस बोर्ड में बोत्सवाना, कोलंबिया, घाना, गिनी-बिसाऊ, मेडागास्कर, ओमान, रिपब्लिक ऑफ कोरिया, रूस और ब्रिटेन को जगह मिली है.

वहीं कोरोना वायरस से निपटने में WHO की भूमिका की जांच की जाएगी. हैरान करने वाली बात यह है कि चीन समेत 140 सदस्य देशों ने WHO का समर्थन किया है. इससे पहले अमेरिकी नेतृत्व की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड-19 के शुरुआती दिनों में उसके फैलाव को रोकने के लिए पर्याप्त गति से कदम नहीं उठाए.