breaking newsदेशराजस्थान

बाबा रामदेव के खिलाफ दर्ज हुई एफआरआई, कोरोनिल ने बढ़ाई मुसीबत

नई दिल्ली। पतंजलि के कोरोना की दवा बनाने के बाद से ही इस दवा पर सरकार की ओर से सवाल उठाए जा चुके हैं। वहीं अब खबर आ रही है कि कोरोनिल दवा को लेकर बाबा रामदेव और 4 अन्य लोगों के खिलाफ राजस्थान की राजधानी जयपुर में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

यह एफआरआई दवा को कोरोना के इलाज के लिए प्रचार करने को लेकर दर्ज करवाई है। यह शिकायत योगगुरु बाबा रामदेव और बालकृष्ण के अलावा वैज्ञानिक अनुराग वार्ष्णेय, निम्स के अध्यक्ष डॉ. बलबीर सिंह तोमर और निदेशक डॉ. अनुराग तोमर के खिलाफ दर्ज करवाई गई है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शिकायतकर्ता का कहना है कि कोरोनिल के भ्रामक प्रचार के मामले में बाबा रामदेव सहित पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। बता दें कि आयुर्वेद के माध्यम से पतंजलि ने कोरोना वायरस के इलाज के लिए दवा बनाई है। जिसकी लाॅन्चिंग खुद बाबा रामदेव ने की है।

हालांकि सरकार ने फिलहाल इसकी बिक्री पर प्रतिबंध लगाया है। वहीं रामदेव बाबा का कहना है कि यह दवा सौ फीसदी तक मरीजों को स्वस्थ कर सकती है। वो भी मात्र 7 से 10 दिन के अंदर। जिस पर आयुष मंत्रालस की ओर से भी कई सवाल खड़े किए गए।