दिल्ली

संविधान में इंडिया नहीं भारत हो देश का नाम, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

नई दिल्ली: देश के संविधान से इंडिया नाम हटाकर सिर्फ भारत करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई गई है, जिसपर आज कोर्ट सुनवाई करेगा। याचिकाकर्ता की दलील है कि इंडिया शब्द गुलामी की निशानी है और इसीलिए उसकी जगह भारत या हिंदुस्तान का इस्तेमाल होना चाहिए।

याचिकाकर्ता का कहना है कि संविधान के अनुच्छेद 1 में संशोधन कर इंडिया शब्द हटा दिया जाए। अभी अनुच्छेद 1 कहता है कि भारत यानी इंडिया राज्यों का संघ होगा। इसकी जगह संशोधन करके इंडिया शब्द हटा दिया जाए और भारत या हिन्दुस्तान कर दिया जाए। देश को मूल और प्रमाणिक नाम भारत से ही मान्यता दी जानी चाहिए।

must read: आज से दिल्ली बॉर्डर सील, सिर्फ पास वालों को मिलेगी एंट्री

उमा भारती ने भी उठाए सवाल

इस मामले में बीजेपी नेता उमा भारती ने दो दिन पहले एक के बाद एक सात ट्वीट किए. उमा भारती ने कहा, ‘एक देश या एक व्यक्ति के दो नाम नहीं होते जैसे कि सूर्य प्रकाश that is सनलाइट, ऐसा किसी का नाम नहीं होगा। इसी तरह से इंडिया that is भारत किसी का नाम होना हास्यास्पद है।’

must read: इंदौर के झमाझम बारिश, गर्मी से मिली राहत

आगे उमा भारती ने कहा, ‘शायद भारत माता नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमंत्री होने की प्रतीक्षा में थी कि उसके माथे पर जो इंडिया शब्द का दाग लगा है, उसको अब हम पोंछ दें।’