आबिद कामदार, इंदौर। शहर में एक अभूतपूर्व आयोजन होने वाला है,जब इसकी जानकारी मिली तो शहर में पूरी तरह शांति व्यवस्था बनाए रखने और इसमें कोई कसर ना छोड़ने के मकसद से हमने तैयारियां शुरू कर दी। यह बात अपने साक्षात्कार के दौरान इंदौर पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र ने कही। उन्होंने कहा की एक बड़े आयोजन की मेजबानी शहर को मिली है, जिसमें देश की राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और 2 देशों के राष्ट्रपति, कई विभाग के केंद्रीय और प्रदेश स्तर के मंत्री और अन्य देशों से आए वीवीआईपी शामिल हुए।

 

शहर में शांति, सुरक्षा और मानवीय संवेदनाओं को लेकर कोई समझौता नहीं

आयोजन में कई वीवीआईपी शामिल हुए, इसको लेकर शहर में शांति व्यवस्था, लोगों का अच्छा व्यवहार, सुरक्षा व्यवस्था, धैर्य, मानवीय संवेदना को लेकर कोई समझौता ना हो। इस पर हमने काफी ध्यान दिया और हमें सफलता मिली। सुरक्षा के मापदंडों को लेकर जिला प्रशासन, एसपीजी, आयोजक और अन्य एजेंसियों के साथ बेहतर समन्वय बिठाना पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती थी, लेकिन हमने उसे और बेहतर ढंग से किया।

पुलिस की नौकरी में समय की कोई सीमा नही लेकिन आयोजन के लिए दिया ज्यादा समय

शहर में किसी प्रकार की कोई घटना या दुर्घटना ना हो यह एक बड़ी चुनौती थी, वहीं इंदौर एक व्यवसायिक शहर है इसको लेकर शहर में कोई ट्राफिफ जाम जैसी स्थिति ना बने इसको लेकर भी पुलिस ने अपना बेहतर काम किया। पुलिस कि नौकरी में समय कि कोई सीमा नहीं लेकिन पुलिस विभाग ने इस आयोजन को बेहतर बनाने के लिए सतत कार्य किया है।

Also Read : Global Investors Summit : रंग बिरंगे फूलों की पैकेजिंग इन्वेस्टर्स को कर रही आकर्षित

आयोजन को सफल बनाने के लिए 250 से ज्यादा पुलिस के आला अधिकारी और दस हजार जवानों ने संभाला मोर्चा

शहर की सड़के पतली हो चुकी है, जो की ट्रैफिक से संबंधित समस्या उत्पन्न हो सकती है, लेकिन पुलिस विभाग ने इसे भी बड़े बेहतर ढंग से अंजाम दिया।वहीं शहर में शांति बनी रहे किसी प्रकार की कोई गतिविधि ना हो इसको लेकर पुलिस के 250 से ज्यादा आला अधिकारी और दस हजार से ज्यादा जवानों ने मोर्चा सभाला है। ताकि बाहर से आए मेहमानो और किसी अन्य व्यक्ती को किसी समस्या का सामना ना करना पड़े।