देश में मौसम का मिजाज बदलता जा रहा है। इससे भारत के भिन्न-भिन्न इलाको में अलग-अलग मौसम देखने को मिल रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए कुछ राज्यों में शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के आदेश भी जारी कर दिए गए थे, तो कुछ राज्यों में और तारीख आगे बड़ा दी गई है। वही दूसरी ओर पहाड़ी क्षेत्रों से लगे प्रदेश में लगातार बर्फबारी की होने से कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गए हैं। जिसके कारण स्कूलों के साथ-साथ कॉलेजों को भी बंद करे के आदेश जारी कर दिए गए है।

गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश, दिल्ली में जहां बारिश देखने को मिली है। वहीं बिहार झारखंड में भी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया। 3 दिन के भीतर इन क्षेत्रों में भी बारिश देखने को मिल सकती है। उत्तराखंड हिमाचल में बर्फबारी के बाद मौसम थोड़ा शांत हुआ है।

राहत के बीच शीतलहर 

हालांकि इन क्षेत्रों में अब शीतलहर का अलर्ट जारी कर दिया गया है। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में भी मौसम तेजी से बदल रहा है। शीतलहर के साथ कोल्ड वेव की संभावना जताई गई है। वही अरुणाचल प्रदेश, असम में हल्की बारिश सहित बर्फबारी का पूर्व अनुमान जताया गया है। पूर्वी असम में बारिश देखने को मिली है। इसके साथ ही मणिपुर, मिजोरम, नागालैंड में आज शीतलहर सहित बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

दिल्ली एक बार फिर से बड़ी मुश्किलें 

उत्तर और मध्य भारत में अधिकतम तापमान में गिरावट देखी गई है। दिल्ली में दिन के तापमान में 2-3 डिग्री की गिरावट देखी जा रही है। वहीं पहाड़ों पर बर्फीली हवा का चलन शुरू हो गया है। बर्फीली हवा के कारण 18 जनवरी तक दिल्ली के क्षेत्रों में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। इसके साथ ही घने कोहरे और शीतलहर का येलो अलर्ट जारी किया गया है। कुछ क्षेत्रों में बूंदाबांदी की संभावना जताई गई है।

बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान

यूपी में कड़ाके की ठंड का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया। 14 जनवरी के बाद से ठंड का सितम शुरू हो रहा है। आगामी 1 सप्ताह तक घने कोहरे सहित शीतलहर और कोल्ड की चेतावनी जारी की गई है। कल जिले में कोहरे का येलो अलर्ट जारी किया गया। वहीं लखनऊ सहित आसपास के इलाकों में भी बारिश शुरु हो गई है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से तेज हवा शुरू हो गई है। जिसके कारण पश्चिम उत्तर प्रदेश के मौसम में भारी बदलाव हो रहा है।

यूपी के कई इलाकों में बारिश का पूर्वानुमान

लेकिन अब मैदानी इलाकों में छिटपुट बारिश की संभावना जताई गई है, जबकि हिमालई क्षेत्रों में बर्फबारी और बारिश जारी रहेगी। उत्तर प्रदेश, बिहार के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाया रहेगा। बिहार में कड़ाके की ठंड का पूर्व अनुमान जता दिया गया है। पटना, भागलपुर समेत कई जिलों में शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी गई है। 18 जनवरी तक पूरा प्रदेश शीतलहर की चपेट में मिलेगा। धूप खिलने से लोगों को थोड़ी राहत मिलेगी। पूर्व बिहार और कोसी रीजन में पूरे दिन तापमान में गिरावट देखी जाएगी। इसके साथ ही 20 जनवरी तक Z3 वर्सेस का पूर्वानुमान जारी किया गया। उत्तर पश्चिम जेट स्ट्रीम के संचालन के कारण उत्तर भारत में ठंड और अधिक बढ़ने की संभावना जताई गई है।

झारखंड में महसूस होने लगी ठंडी हवाएं

झारखंड में कुछ दिनों से लगातार तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है। जिसकी वजह से शाम होते ही ठंडी हवा का संचालन शुरू हो जाता है। इसके साथ ही घने कोहरे से मौसम पता रहता है। विजिबिलिटी काफी लोग बताई जा रही है। इसके साथ ही झारखंड में तीन से चार दिनों में मौसम में बड़ा बदलाव दिखेगा। आसमान में बादल छाए रहेंगे।

यहां पर कड़के की ठंड का प्रकोप

आज यानि रविवार से पश्चिमी सामान्य प्रवाह के बीतने के साथ ही उत्तर पश्चिम भारत में बर्फीली हवा का प्रवाह शुरू हो जाएगा। राजस्थान, गुजरात सहित पंजाब, हरियाणा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कड़ाके की ठंड चलेगी। ठंडी हवा के कारण शीत लहर का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। राजस्थान में शीत लहर का प्रकोप शुरू हो गया है। कई जगहों पर बर्फ जमने लगी है। वही 19 जनवरी को पश्चिम हिमालय तक पश्चिमी विक्षोभ के पहुंचने की संभावना जताई गई है। चुरू में न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया। बीकानेर में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि फतेहपुर सीकर में तापमान 3.5 रिकॉर्ड किए गए हैं।

इन इलाकों में हिमस्खलन की चेतावनी

राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा बांदीपोरा, बारामुला, डोडा, गांदेरबल द्वारा पूछ हिमस्खलन की चेतावनी जारी कर दी गई है। 2000 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में उच्च स्तरीय खतरे के लिए हिमस्खलन की आशंका जताई गई है जबकि बारामुला डोडा रामबन में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बर्फ की मोटी चादर बिछी

हिमाचल उत्तराखंड में बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया। इसके साथ ही दिल्ली, एनसीआर में 3 दिन शीतलहर और कोहरे का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। शीतल दिन की संभावना जताई गई है। मसूरी में मौसम साफ रहा है। कोटद्वार में कोहरा छाया रहा। राजस्थान में बर्फ की मोटी चादर बिछी हुई है। केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य को बंद कर दिया गया जबकि भारी बर्फबारी के कारण गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग सेवा बाधित हो गई है।