देश में इस समय अलग-अलग राज्यों में भिन्न-भिन्न परिवर्तन देखने को मिल रहा है। इससे अत्तर भारत में कड़ाकें की ठंड देखने को मिल रही है। वही पहाड़ी इलाकों में लगातार बर्फबारी का दौर जारी है। इसी के साथ दक्षिण क्षेत्रों में बारिश का कहर जारी है। साथ ही सूर्यप्रकाश विजिबिलिटी भी 25 मीटर से भी कम कर रहा है। कई उत्तरी राज्य में शीतलहर का प्रकोप शुरू हो गया है, उत्तर प्रदेश और बिहार में धुंध का कहर देखने को मिल रहा है।

मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश और बिहार के कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। जबकि 8 राज्यों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। इसी के साथ ला नीना का भी असर देखने को मिलेगा। वहीं दक्षिणी राज्यों के कई क्षेत्रों में आज भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

यहां होगी बुंदाबादी बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक पूर्वी राज्यों की बात करें तो अरुणाचल प्रदेश, असम नगालैंड मणिपुर मिजोरम और त्रिपुरा में आज मौसम शुष्क रहने की संभावना जताई गई है। हालांकि असम मेघालय नगालैंड मणिपुर मिजोरम में मध्यम और छिटपुट बारिश देखने को मिल सकती है। इसके अलावा अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्से में हिमपात और बारिश की संभावना जताई गई है। कई क्षेत्रों में हल्की बारिश के साथ कोहरे भी देखने को मिलेंगे।

भारी बारिश की संभावना

कम दबाव का क्षेत्र वर्तमान में बंगाल की खाड़ी के मध्य भाग और उससे जुड़ी चक्रवर्ती परिसंचरण के साथ-साथ भूमध्य रेखीय हिंद महासागर पर स्थित हुआ है 2 दिन उसके पश्चिम उत्तर पश्चिम से श्रीलंका की ओर बढ़ने के कारण तमिलनाडु और पड़ोसी राज्यों में भारी बारिश देखने को मिलेगी।

मौसम बना रहेंगा शुष्क

सुबह के समय पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश के आसपास बहुत घना कोहरा संभव है।
23 से 26 दिसंबर तक येलो अलर्ट जारी

तमिलनाडु और पुडुचेरी में 23 से 26 दिसंबर तक येलो अलर्ट जारी कर रखा गया है। 20 से 23 सितंबर तक चेन्नई और कोयंबटूर में गरज चमक के साथ बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। साथ ही सप्ताह के अंत में आसमान में बादल छाए रहेंगे। गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना जताई गई है।

गुरुवार और शुक्रवार को कुड्डालोर, नागपट्टिनम, तिरुवरुर, कराईकल, तंजावुर, पुदुकोट्टई, रामनाथपुरम और थूथुकुडी जिले गुरुवार को अलर्ट पर रहेंगे, जबकि कुड्डालोर, नागपट्टिनम, तिरुवरुर, कराईकल, तंजावुर, पुदुकोट्टई, रामनाथपुरम, विल्लुपुरम और चेंगलपट्टू में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

कोहरे की सक्रियता बड़ी

दिल्ली यूपी और बिहार में घने कोहरे की चादर बिछ गई है, उत्तर भारत के कई राज्यों में सूर्य प्रकाश विजिबिलिटी काफी कम होने से कोहरे की सक्रियता बढ़ी है। दिल्ली में 2 दिन से तापमान में गिरावट जारी है। यूपी बिहार पंजाब में कोहरे का ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है। जबकि हिमाचल प्रदेश पंजाब सहित हरियाणा में मौसम विभाग द्वारा घने से बहुत घने कोहरे का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

Also Read : Gold Price Today: आज सस्ता हुआ सोना, चांदी के भाव बढ़े; यहां जानें 10 ग्राम गोल्ड की कीमत

इस राज्य में कड़ाके की ठंड

उत्तर प्रदेश में भी कड़ाके की ठंड शुरू हो गई है, न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया जबकि अधिकतम तापमान में भी 5% की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। अधिकतम तापमान घटकर 22 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। लखनऊ सहित आसपास के क्षेत्रों में आज घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान जताया गया। ठंड और कोहरे का सितम शुरू हो गया है। उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है। 2 दिनों तक घना कोहरा छाया रहेगा। सूर्य विजिबिलिटी काफी कम होगी। मुंबई कोलकाता सहित अन्य शहरों के लिए उड़ान देरी से शुरू होगी।

कोहरे का येलो अलर्ट

बिहार में 3 दिन के बाद तापमान में कमी देखने के साथ ही ठंड बढ़ेगी। पछुआ हवा की गति समय के साथ ही न्यूनतम तापमान में वृद्धि देखी जा रही है। ठंड में गिरावट के लिए 3 दिन का इंतजार करना पड़ेगा। हालांकि कोहरे में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बिहार में कोहरे को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। 3 दिन तक कोहरे से लोगों को सतर्क रहने की चेतावनी दी गई है। वहीं साल के आखिरी में बिहार में कड़ाके की ठंड जारी किया गया है। प्रदेश के कई जिलों में शीतलहर की आशंका जताई गई है। 7.3 डिग्री सेल्सियस तापमान गया का रिकॉर्ड किया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक 21 सितंबर से शीतलहर का प्रभाव देखने को मिलेगा, मौसम विभाग द्वारा 5 दिनों तक हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान सहित उत्तर प्रदेश में शीतलहर का पूर्व अनुमान जताया गया है। सुबह के समय हवा की रफ्तार तेज रहेगी। इसके साथ ही सर्द हवा के कारण लोगों को कंपन महसूस होगी।

इन राज्य में हिमपात की संभावना

मौसम विभाग द्वारा गिलगित, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश और हिमपात का अलर्ट जारी किया गया है। 3 से 4 दिनों में इन क्षेत्रों में एक बार फिर से बर्फबारी देखने को मिलेगी। बर्फबारी होने की वजह से सर्द हवाओं का झोंका एक बार फिर से दक्षिण की तरफ प्रवेश करेगा। जिसके कारण उत्तर भारत और मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के मौसम में तेजी से बदलाव देखने को मिलेगा। मप्र में मावठ गिरने की संभावना भी जताई गई है।