देश का मौसम तेजी से बदल रहा है। इससे लोगों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इस वजह से भारत के कई प्रदेशों के स्कूल संस्थानों को बंद करने के आदेश भी जारी कर दिए गए है। वही कुछ में समय को आगे बढ़ा दिया गया है। दिल्ली सहीत कई राज्यों में तो तापमान शून्य के करीब भी पहुंच गया है। इससे लोग घर से बाहर निकले को भी कतरा रहे है। इसी के साथ कई राज्यों में भारी बारिश के साथ-साथ पहाड़ी इलाकों में लगातार बर्फबारी का दौर जारी है। इससे पड़ोसी राज्यों को दोहरी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

वही हिमालय पर पश्चिम विक्षोभ एक्टीव हो गया है। इससे स्थानिय लोगों को थोड़ी राहत मिलेंगी। हालांकि देश की राष्ट्रीय़ राजधानी दिल्ली से भी राहत भरी खबर मिल रही है। उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश में बारिश और कोल्ड वेव की चेतावनी जारी कर दी गई है।

शीतलहर की चेतावनी

दिल्ली, यूपी, बिहार, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान सहित गुजरात में घना कोहरा छाया रहेगा। इसके साथ ही इन क्षेत्रों में शीतलहर की चेतावनी जारी की गई है। वहीं मौसम विभाग द्वारा दिए जानकारी के मुताबिक कई क्षेत्रों में ओस की बूंदे बारिश की तरह टपक रही है। राजधानी दिल्ली में आज कई पहाड़ी क्षेत्रों से अरे तापमान रिकॉर्ड किया गया है। हालांकि मंगलवार से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में कमी आने का पूर्व अनुमान जताया गया है।

10 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के साथ ही राजधानी दिल्ली सहित अन्य राज्यों में तापमान में वृद्धि देखने को मिल सकती है।

शीतलहर के साथ कड़ाके की ठंड का रेड अलर्ट

बीते सोमवार को आगरा, लखनऊ, भटिंडा, जम्मू , गंगानगर , अंबाला , पटियाला, लखनऊ, सुल्तानपुर, भागलपुर, बरेली, गोरखपुर, कानपुर सहित कई जगहों पर विजिबिलिटी जीरो पहुंच गई है। वही बहराइच, पालम, गया, पूर्णिया में विजिबिलिटी 50 मीटर रिकॉर्ड की गई है। सफदरगंज में 25 मीटर विजिबिलिटी रिकॉर्ड की गई है इसके अलावा शीतलहर और कोल्ड वेव का येलो ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है।

13 जनवरी से राहत

दरअसल कई पर्वतीय राज्यों को पीछे छोड़ते हुए सोमवार को दिल्ली का न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। बता दें कि देहरादून और नैनीताल जैसे पहाड़ी इलाकों में भी न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि दिल्ली लगातार ठंडी होती जा रही है। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के बाद 13 जनवरी से दिल्ली में कुछ राहत मिलने की उम्मीद जताई गई है।

इन राज्यों में बूंदाबांदी के बन रहे आसार

10 जनवरी को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के साथ ही 11 और 12 जनवरी को इसका असर पंजाब-हरियाणा पर है। इसके साथ ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उत्तर प्रदेश में भी इसके प्रभाव नजर आएंगे। 11 और 12 जनवरी को हल्की बूंदा बादी का अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही पर्वतीय इलाकों में भारी बर्फबारी की संभावना जताई गई है। कोल्ड वेव को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है।

बिहार के इन इलाकों में कोल्ड का अलर्ट

बिहार में लगातार तापमान में गिरावट देखने को मिल रहा है। इससे पटना सहित कई इलाकों में तापमान 2-3 डिग्री तक पहुंत गया है। 13 जिलों में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री से कम रिकॉर्ड किया गया है। सोमवार को तापमान रिकॉर्ड किए जाने के साथ ही कोल्ड डे, सीवियर कोल्ड जारी किया गया। पटना, गया, भागलपुर में कोल्ड डे रिकॉर्ड किया गया जबकि पूर्णिया, मुजफ्फरपुर, छपरा में सीवियर कोल्ड की चेतावनी जारी की गई है।

दरभंगा, सुपौल, मोतिहारी में भी शीतलहर का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया है। विजिबिलिटी काफी कम हो गई है। शीतलहर का प्रकोप बना रहेगा। 13 जनवरी के बाद बिहार में राहत मिलती नजर आ रहे हैं।

यूपी में हो सकती है बारिश, चेतावनी की जारी

उत्तर प्रदेश में 11 से 15 जनवरी के बीच पंजाब हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश की संभावना जताई गई है। इटावा को सबसे ठंडा रिकॉर्ड किया गया है। क्षेत्र में घना कोहरा और कोल्ड बे की चेतावनी जारी की गई। 19 जिले में रेड अलर्ट जारी किया गया जबकि मध्य और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है।

आज से यहां 5 दिनों तक होगी बारिश

उत्तराखंड के मैदानी इलाकों में मौसम की मार जारी रहेगी। मंगलवार से लेकर अगले 5 दिनों तक बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा। जबरदस्त बर्फबारी की संभावना जताई गई है। 10 जनवरी के बाद से शीतलहर के बढ़ते प्रकोप के साथ ही भारी बर्फबारी और बारिश का पूर्वानुमान जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के कारण मौसम के मिजाज में लगातार बदलाव देखने को मिलेंगे।

उधम सिंह नगर में शीतलहर की चेतावनी जारी कर दी गई है जबकि हरिद्वार में घने कोहरे की संभावना जताई गई है। उत्तराखंड में 15 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा।

पूर्वी राज्यों में शीतलहर का रेड अलर्ट

असम मेघालय मणिपुर अरुणाचल प्रदेश में बर्फबारी और बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। आवागमन सेवा बाधित होगी। इसके साथ ही धुंध और कोहरे के साथ विजिबिलिटी में कमी आएगी। मौसम विभाग द्वारा जारी अपडेट के तहत असम, मेघालय, मणिपुर, सहित कई आसपास के क्षेत्रों में बारिश की गतिविधि 12 जनवरी से शुरू होने के आसार जताए गए हैं।