देश में बारिश के साथ-साथ ठंडक ने भी दस्तक दे दी हैं। इसके कारण लोगों की दोगुनी मुश्किलें और बढ़ गई है। इधर मौसम विभाग ने बुधावार को अलर्ट जारी करते हुए भारत के तमाम राज्यों में आने वाले कुछ दिनों तक और गरज चमक के साथ बारिश होने की आशंका जताई है। बता दें कि लगातार पानी बरसने की वजह से कुछ राज्यों में शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया गया है। वही उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई, जिससे योगी सरकार की मुश्किलें और बढ़ गई हैं।

पहाड़ी इलाकों में ठंडक ने दी दस्तक

पहाड़ी क्षेत्र से लगे राज्य में बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है, जिसकी वजह से ठंड ने दस्तक दे दी है। मौसम विभाग द्वारा आने वाले दिनों में कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। अरुणाचल असम महाराष्ट्र उड़ीसा तेलंगाना सहित बंगाल झारखंड बिहार में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा राजधानी में भी बूंदाबांदी का दौर जारी रहेगा। पंजाब हरियाणा राजस्थान में भी बौछारें देखने को मिल सकती है। इसके अलावा मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी बारिश की संभावना जताई गई है।

यूपी-बिहार के समुचे जिलों में रेड अलर्ट

उत्तर प्रदेश बिहार में अभी 48 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश के पूर्वी और दक्षिणी बिहार के 14 जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। देश की राजधानी दिल्ली में सुबह से ही कोहरा छाया हुआ है हर तरफ कोहरे के बीच शाम तक हल्की बारिश की संभावना है। यूपी के कई जिले भारी बारिश से तबाही बाढ़ बारिश के कारण अब तक 6 लोगों की मौत की खबर सामने आई है। बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों में आज यूपी के सीएम द्वारा सर्वे किया गया है। अभी मध्य भारत और उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में मौसम विभाग ने 3 दिन तक मौसम ऐसे ही बने रहने की संभावना जताई है।

Also Read : IMD Alert : चक्रवाती हवाओं का रहेगा प्रभाव, इन जिलों में गरज और चमक के साथ होगी भारी बारिश

बिहार के सभी जिले में बारिश का अलर्ट

बिहार के सभी जिले में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। इसके अलावा गया औरंगाबाद और रोहतास में भी रेड येलो अलर्ट जारी किया गया। अगले 24 घंटे के दौरान राजधानी पटना समेत सभी जिले में मेघ गर्जन के साथ मध्यम दर्जे की बारिश का पूर्वानुमान जताया गया। करवा चौथ के दिन भी बिहार में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। इसी बीच आसमान में बादल छाए रहेंगे धुंध के कारण करवा चौथ के दिन चांद के दर्शन भी देरी हो सकती है। वैशाली के अलावा रजौली कटिहार में भारी बारिश देखने को मिली है। तापमान में 7 फीसद की भारी गिरावट रिकॉर्ड की गई है।

इन राज्यों में मौसम ने किया बदलाव

3 अक्टूबर को दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के उत्तरी भारत से हटने के बाद से यह रुका हुआ है, लेकिन इस सप्ताह मध्य भारत के कुछ हिस्सों में वापसी की संभावना है। पूर्व और दक्षिण भारत के साथ-साथ महाराष्ट्र में, इस सप्ताह विभिन्न ट्रफ और चक्रवाती हवाओं के कारण गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। केरल से कर्नाटक होते हुए मध्य प्रदेश तक गुरुवार तक एक ट्रफ रेखा के चलने के कारण महाराष्ट्र और आसपास के क्षेत्रों में कहीं-कहीं भारी गिरावट देखने को मिल सकती है। इसके अलावा, अरुणाचल प्रदेश और आसपास के क्षेत्रों में गुरुवार तक स्थानीय रूप से भारी बारिश की संभावना है, जहां बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिम हवाएं पहाड़ों से टकराती हैं।

सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया लोगों को

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले के निचले इलाके में भारी बारिश के कारण जल्द जमा हो गया है। सभी प्रभावित परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर लाया जा रहा है। साथ ही प्रशासन तेजी से मुस्तैद है। आंध्र प्रदेश के कई जिलों में आज बारिश की संभावना जताई गई है।

मौसम का बिगड़ा मिजाज

झारखंड के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। झारखंड में मौसम का मिजाज बिगड़ा हुआ है। कुछ दिन तक ऐसे ही स्थिति बने रहने की संभावना जताई गई है। 20 अक्टूबर तक झारखंड में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। रांची मौसम विज्ञान केंद्र की माने तो मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताते हुए गरज चमक और वज्रपात का भी अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग ने जिन जिलों में बारिश की संभावना जताई है। उसमें कोडरमा धनबाद गिरिडीह बोकारो पाकुड़ साहिबगंज देवघर दुमका गोड्डा जामताड़ा लातेहार लोहरदगा रांची गुमला और सिमडेगा में भारी बारिश देखने को मिल सकती है। लोगों को सावधान और सतर्क रहने की चेतावनी दी गई है। निचले स्थान पर रहे रहे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर चले जाने की बात कही गई है।

Also Read : दिवाली के मौके पर रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा बड़ा तोहफा, सैलरी के बराबर बोनस देने का किया ऐलान

ओडिशा में चक्रवात की तैयारी

तूफान के बिना किसी अलर्ट के ओडिशा में चक्रवात की तैयारियों में प्रशासन जुट गई है। उड़ीसा सरकार ने संभावित चक्रवात को देखते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए। मौसम विभाग में चक्रवात का कोई एलर्जी नहीं किया है। बावजूद इसके उड़ीसा सरकार चक्रवात की स्थिति पर नजर बनाए हुई है।

बंगाल में भी भारी बारिश का अलर्ट

बंगाल में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा केरल कर्नाटक तमिलनाडु सहित महाराष्ट्र गोवा में भी आज बूंदाबादी देखने को मिल सकती है।

पूर्वी क्षेत्रों में भारी बारिश का कहर

मौसम विज्ञान विभाग केंद्र ने गरज चमक के साथ सिक्किम नागालैंड मणिपुर मिजोरम त्रिपुरा बिहार झारखंड बंगाल मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ उड़ीसा आंध्र प्रदेश तेलंगाना गोवा कर्नाटक तमिलनाडु और अंडमान में बिजली गिरने के साथ भारी बारिश की संभावना जताई है। इसके अलावा यूपी के लक्ष्यदीप में भी बूंदाबांदी देखने को मिलेगी जबकि जम्मू कश्मीर हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड पंजाब हरियाणा और गुजरात में गरज चमक के साथ हल्की बौछारें का सिलसिला जारी रहेगा।