चक्रवात मैंडूस ने कई राज्यों की परेशानी बढ़ा दी है। IMD ने 10 राज्य में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है। 12 राज्यों में तेज हवाएं चलेंगी इसके साथ ही साथ तीन राज्यों में गरज चमक की भी चेतावनी जारी की गई है। वहीं उत्तर भारत में कपकपाने वाली ठंडी की दस्तक शुरू हो गई है। सर्द हवा के झोंके लोगों को परेशान कर रहे हैं। तापमान में भारी गिरावट का दौर जारी है।

राजधानी दिल्ली में छाये रहेंगे बादल

राजधानी दिल्ली सहित हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश और बिहार में कोहरे और धुंध छाया हुआ है। दूसरी तरफ पहाडी राज्यों में भी बर्फबारी में तेजी देखी जा रही है। राजधानी दिल्ली में आज 9 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस व अधिकतम तापमान 25 डिग्री रहने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। हल्का कोहरा रहेगा, प्रदूषण के कारण हवा जहरीली रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग की मानें तो चक्रवाती तूफान का असर चेन्नई में 10 दिसंबर तक दिखेगा।

मध्य प्रदेश में बारिश का अनुमान

मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ सहित कई राज्यों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। तेज हवा चलेगी। हल्की बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है जबकि यूपी-बिहार दिल्ली हरियाणा पंजाब में सर्द हवा का प्रभाव दिखेगा। 15 दिसंबर तक भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। प्रशासन को मुस्तैद कर दिया गया है। कई विमानों का परिचालन स्थगित हो गया है।

चक्रवात मैंडुस का असर

बंगाल की खाड़ी में बनाने वाली दवा का क्षेत्र चक्रवात का रूप ले चुका है। चक्रवात मैंडुस का खतरा लगातार बरकरार है। कई राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। खतरा बढ़ता जा रहा है। आठ राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी गई है। तमिलनाडु के 13 जिले में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। मछुआरों के लिए भी अलर्ट जारी किया गया है। 12 दिसंबर तक दक्षिणी राज्य में बारिश का कहर जारी रहेगा।

यूपी में तापमान में आयी भारी गिरावट

बात करें उत्तर प्रदेश की तो पूर्वांचल क्षेत्र में सर्दी तेज हो गई है। गोरखपुर और पूर्वांचल के सभी जिलों में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार जताए गए। 10 दिसंबर के बाद तापमान में गिरावट का सिलसिला शुरू होगा। वही वायुमंडलीय परिस्थिति पल पल रही है। पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमोत्तर में बनने पर 8 दिसंबर से मौसम विभाग द्वारा बिहार और उत्तर प्रदेश में तापमान में गिरावट जारी है।

IMD की माने तो चक्रवात एक गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है आधी रात को मल्लपुरम के पास पार करने की उम्मीद है। जिसके कारण इन क्षेत्रों में अलर्ट घोषित किया गया है। तमिलनाडु, पुदुवई और कराईकल के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।

झारखंड में बढ़ रही ठंड

उत्तर की ओर से आ रही ठंडी हवाओं के कारण झारखंड में सर्दी में इजाफा हुआ है, पारा लगातार गिर रहा है। कई जिलों में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे गिर गया है। राजधानी रांची में भी पारा गिरा है। प्रदेश के कई जिलों में शीत-लहर की स्थिति दिख लगी है। मौसम विभाग की मानें तो अगले पांच दिनों में दिन और रात के तापमान में कोई बड़े बदलाव की संभावना नहीं है। प्रदेश में मौसम आने वाले दिनों में शुष्क रहेगा।

राजस्थान गुजरात में कड़ाके की ठण्ड

राजस्थान गुजरात सहित पंजाब में दिन में जहां धूप खिली रहेगी। सुबह और शाम के तापमान में गिरावट देखी जाएगी। कोहरे और धुंध से मौसम में ठिठुरन बढ़ेगी। दो दिनों तक मौसम शुष्क रहने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। इसके बाद अचानक से तापमान में भारी गिरावट का सिलसिला शुरू होगा। मौसम विभाग की माने तो पश्चिमी विक्षोभ के कारण नॉर्दन विंड का फ्लो कम हो गया। जिसके कारण तापमान में मामूली इजाफा देखने को मिला। हालांकि 12 दिसंबर के बाद तापमान में भारी गिरावट देखी जाएगी।

इन राज्यों के तापमान में दिखी भारी गिरावट

मौसम विभाग के मुताबिक श्रीनगर में न्यूनतम तापमान माइनस में रिकॉर्ड किया गया है अहमदाबाद में न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस है वही देहरादून की बात करें तो पारा लुढ़क करना पहुंच गया है जयपुर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस है वही शिमला में भी तापमान में भारी गिरावट देखी गई है न्यूनतम तापमान 7 डिग्री पहुंच गया है। जम्मू में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री है जबकि मुंबई में न्यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस है लेह लद्दाख में न्यूनतम तापमान -8 रिकॉर्ड किया गया जो कि पटना में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस है।

Also Read : Madhya Pradesh : युवक ने ध्यान भटकाने के लिए यूट्यूब से 75 लाख रुपये मांगा, सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 25 हज़ार का जुर्माना

पहाड़ी क्षेत्रों में जारी रहेगी बर्फवारी

हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड सहित जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। जिसके कारण बर्फबारी का सिलसिला शुरू हो गया। इसके साथ ही इन क्षेत्रों में हल्की बारिश भी देखने को मिल रही है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण 8 से 12 दिसंबर तक जम्मू कश्मीर लद्दाख को हिमाचल प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी का दौर जारी किया गया जबकि उत्तराखंड में भी तेज हिमपात के साथ बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।