देश में लगातार मौसम में बड़े बदलाव देखने को मिल रहे है। जिसकी वजह से भारत के अधिकांश इलाकों में ठंडक ने दस्तक दे दी है। वही कुछ क्षेत्रों में भीषण बारिश का कहर जारी है। दिल्ली और शिमला में कड़ाके की ठंड से लोगों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इसी के साथ मध्य प्रदेश में पिछले दो दिन पहले बारिश की बौछार होने से अधिक ठंड महसूस होने लगी थी। लेकिन अभी ठंडक थमी हुई है।

पहाड़ी राज्यों में 7 दिन तक बर्फबारी और बारिश की संभावना से इनकार किया गया। इसके अलावा गिलगिट, मुजफ्फराबाद, उत्तराखंड में भी बर्फबारी के आसार नहीं है। दक्षिणी राज्यों में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। मध्यम और भारी बारिश के साथ चमक की भी संभावना जताई गई है।

दिल्ली में हवा की स्थिति खराब

वहीं, दिल्ली में प्रदूषण से भी राहत नहीं मिल रही है। राष्ट्रीय राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 300 के करीब है, जो कि खराब श्रेणी में आता है। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो दिल्ली में अब कोहरा और धुंध परेशान कर सकता है।

दिल्ली में एक बार फिर से सीजन की सबसे सर्द सुबह रिकॉर्ड की गई है। 24 घंटे में वायु गुणवत्ता खराब महसूस किया गया है। 18 से 20 दिसंबर तक हरियाणा चंडीगढ़ पंजाब और राजस्थान में शीतलहर का पूर्वानुमान जारी किया गया है। गुरुवार को न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस, शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। दिल्ली में दिसंबर में शीतलहर का येलो अलर्ट जारी किया गया है। दरअसल इस दौरान शीतलहर चलने का भी पूर्वानुमान जारी किया गया है।

इन क्षेत्रों में बारिश का पूर्वानुमान

अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में बने लो प्रेशर के डिप्रेशन में बदलने के साथ ही मौसम में बदलाव दिखने लगे हैं। कई राज्यों में तेज हवाएं चल रही है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। साथ ही सूर्य के प्रकाश की विजिबिलिटी भी कम नजर आ रही है। इसी बीच केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, रायलसीमा, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश सहित मध्य महाराष्ट्र में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

Also Read : एक्टर साहिल उप्पल ने ‘इमली’ सीरियल की राइटर से रचाई शादी, देखें ग्रैंड वेडिंग-रिसेप्शन की झलकियां

उत्तर भारत की बात करें तो उत्तर प्रदेश के कानपुर में तापमान में गिरावट देखी गई है। कानपुर, लखनऊ सहित कई शहरों के तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। ठंड से बचने के लिए लोग आग तापते नजर आ रहे हैं।

हरियाणा के अंबाला से ही पंजाब, राजस्थान के चूरू और अन्य क्षेत्रों में शहर का अलर्ट जारी कर दिया गया है। सुबह घना कोहरा देखने को मिलेगा। ठंड के कारण हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और झारखंड में न्यूनतम तापमान 5 से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच पहुंच गए हैं।

दिल्ली सहित इन राज्यों में राहत

हालांकि पहाड़ों पर बर्फबारी होने के कारण मैदानी इलाकों में इसका असर देखने को मिल सकता है। वहीं कोई सिस्टम एक्टिव नहीं होने की वजह से तापमान में गिरावट जारी रहेगी। सिस्टम सक्रिय होने के बाद एक बार फिर से कुछ क्षेत्रों में तापमान के की संभावना जताई गई है। आने वाले समय में ठंड के और अधिक बढ़ने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। कड़ाके की ठंड के लिए हालांकि दिल्ली सहित अन्य राज्यों के लोगों को थोड़ा इंतजार और करना पड़ेगा। हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा सहित सात राज्यों में दिसंबर के अंत और जनवरी के शुरुआत में अत्यधिक ठंड पड़ने की संभावना जताई गई है।

शिमला से ज्यादा दिल्ली में ठंड

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, शिमला में अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस तक जबकि न्यूनतम तापमान 7-8 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। जबकि दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस ही बना रह सकता है। हालांकि, दिल्ली का अधिकतम तापमान 25 डिग्री तक पहुंच रहा है।

शीतलहर का येलो अलर्ट जारी

19 दिसंबर की रात से तमिलनाडु के दक्षिणी हिस्से में बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। इसके अलावा भी आसपास के कई राज्य में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है, प्रमुख शहरों के तापमान के बाद करे तो दिल्ली में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस, लखनऊ में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस, पटना में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस जबकि देहरादून में न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। शिमला में न्यूनतम तापमान माइनस 2 डिग्री सेल्सियस जबकि मसूरी में न्यूनतम तापमान माइनस 1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। उत्तराखंड राजस्थान में शीतलहर का येलो अलर्ट जारी किया गया है।