देश में भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में लगातार मौसम में तेजी से बदलाव देखने को मिल रहा है। कुछ राज्यों में शीतलहर का दौर शुरू हो चुका है। इससे ठंडक का भी असर देखने को मिल रहा है। वही कुछ राज्यों में निरंतर बारिश का कहर जारी है।

आईएमडी पूर्वानुमान की माने तो उत्तर भारत के तापमान में और अधिक गिरावट दर्ज की जाएगी जबकि दक्षिण के इलाकों में बारिश की गतिविधि जारी रहेगी। मौसम विभाग में आज 8 राज्यों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। साथ ही दो चक्रवातीय सिस्टम सक्रिय हैं।

पहाड़ों पर भारी बर्फबारी

मौसम विभाग की तरफ से आयोजन के मुताबिक दिल्ली में आज 27 नवंबर को न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाएगा। ठंड की रफ्तार तेजी से बढ़ेगी। अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के आसार ठंड के बढ़त के साथ साथ ही प्रदूषण भी बड़ी देखी जा रही है। कोहरे से मौसम पटा हुआ है। इंडेक्स क्वालिटी में हवा बेहद खराब की गई है। पहाड़ों पर भारी बर्फबारी और बारिश के आसार है। दिसंबर के दूसरे सप्ताह तक नई दिल्ली में शीतलहर का प्रकोप दिखेगा।

यूपी में बना रहा है ये असर

उत्तर प्रदेश के मौसम में भारी बदलाव देखने को मिल रहे हैं। लखनऊ में न्यूनतम पारा 12 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है जबकि अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस बना हुआ है। सुबह और शाम को कोहरे देखने को मिल रहे हैं। गाजियाबाद में तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में कोहरे और धुंध ने मौसम में तेजी से बदलाव किए हैं।

हुई तापमान में कमी

बिहार में सुबह के 18 जिलों में पछुआ हवा की वजह से तापमान में वृद्धि रिकॉर्ड की गई। अगले 5 दिनों तक ठंडी जारी रहेगी। ग्रामीण इलाकों में कोहरे का कहर शुरू हो गया है। अलाव जलाने के साथ गर्म कपड़े भी दिखने लगे समस्तीपुर में न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि भागलपुर में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है भागलपुर और मुजफ्फरपुर को न्यूनतम तापमान की श्रेणी में रिकॉर्ड किया गया है।

झारखंड में उत्तर की तरफ से आ रही सर्द हवा के कारण तापमान में गिरावट हो रही है। सिमडेगा जिले में न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। डाल्टनगंज में भी तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है। अगले 5 दिन रात के तापमान में बड़े बदलाव की संभावना जताई गई है। सुबह कोहरे और धुंध के बाद आसमान साफ रहता है। पलामू लातेहार गढ़वा चतरा लोहरदगा में कोल्ड वेव का असर देखने को मिलेगा । शीतलहर का अलर्ट जारी किया गया है। चाईबासा में सबसे अधिक तापमान रिकॉर्ड किया गया है।

राजस्थान में गिरा पारा

राजस्थान का कश्मीर कहे जाने वाली हिल स्टेशन माउंट आबू में सर्दी की वजह से तापमान 1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। राजस्थान में पिछले 5 दिनों में न्यूनतम तापमान में 4 डिग्री की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। इसमें आने वाले एक-दो दिनों में पारा माइनस में देखने को मिल सकता है। सर्दी से पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में भी कोहरे छाए हुए हैं।

नवंबर महीने में कुछ दिन शेष है। नवंबर महीने में एक बार भी बारिश नहीं हुई है। वर्ष 2018 में शहर में 5.3 मिलीमीटर बारिश हुई थी। वहीं 2018 में 15.2 मिलीमीटर बारिश देखने को मिले थे। पहाड़ों में बर्फबारी और शीतलहर चलने से तापमान में जरूरी गिरावट दर्ज की जा रही है। न्यूनतम तापमान 9.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बारिश

उत्तर भारत में बारिश केवल पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हो रही है। उत्तर भारत में अक्टूबर-नवंबर में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय रहता है। दिसंबर में सक्रियता बढ़ने के साथ ही अब बारिश रिकॉर्ड की जा रही है।

मध्य प्रदेश में शीत लहर

मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ी है। प्रदेश में शीतलहर का अलर्ट जारी किया गया है। ज्यादातर हिस्से में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे गिर गया है। मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा ठंड में देखने को मिल रहा है। न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। कुछ हिस्से में शीतलहर की चेतावनी जारी की गई है।