यही चलता रहा तो, मप्र के एक भी मंत्री को सड़क पर नहीं घूमने देंगे- विजयवर्गीय

0
41

राजगढ़/ब्यावरा। ब्यावरा में सीएए समर्थन रैली में हुई घटना को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने प्रदेश सरकार को सीधी कार्रवाई की चेतावनी दी। बुधवार को ब्यावरा में हुई सभा में उन्होंने कहा कि मैं कमलनाथ जी आपको चेतावनी देता हूं कि आपने इनके(कलेक्टर व डिप्टी कलेक्टर के) खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो भाजपा आपके व आपके अधिकारियों के खिलाफ सीधी कार्रवाई करेगी। हमने दिग्विजयसिंह का भी कार्यकाल देखा है। उन्होंने भी ऐसा ही किया था। कमलनाथ जी आप अब उल्टी गिनती गिनना शुरू कर दो। यदि यही चला तो आपके एक भी मंत्री को सड़कों पर घूमने नहीं देंगे। भाजपा कार्यकर्ता विरोध करेंगे।

उन्होंने कहा कि मैं तो सीधी कार्रवाई पर विश्वास रखता हूं। आपको पता होगा मैं संगीत का शौकीन हूं। और संगीत का एक सूत्र है कि जैसा गाना, वैसा अपने को बजाना चाहिए। लेकिन राजगढ़ के लोग थोड़ा-सा पिछड गए। भाजपा कार्यकर्ताओं का खून-पसीना इतना सस्ता नहीं है कि कोई भी डराने और दबाने की कोशिश करेगा। हमारे कार्यकर्ता कोई रसगुल्ला हैं क्या, जो कोई भी निगल जाएगा।

विजयवर्गीय ने कलेक्टर निधि निवेदिता पर निशाना साधते हुए कहा कि मुझे पता लगा है कि जेएनयू के वायरस राजगढ में भी आ गए। पता लगा है कि कलेक्टर महोदया जेएनयू की पढ़ी हैं। उसी वायरस के कारण यह यह सब हुआ है। आप बताओ यदि उस वायरस को खत्म करना हो तो क्या करना चाहिए। हम प्रजातांत्रिक तरीके से उस वायरस को खत्म करेंगे।

तो चूल्हा चौका कर रहीं होतीं-भार्गव

विधानसभा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि जिस संविधान के तहत कलेक्टर-डिप्टी कलेक्टर की नियुक्ति हुई है, उसे सभी को मानना चाहिए। उसी संविधान के तहत इन्हें पद मिले हैं। यदि संविधान नहीं होता तो घर में तुम कहीं पर रोटी बना रहीं होती। चूल्हा-चौका कर रहीं होती। तुम्हें क्या जरूरत थी पब्लिक के बीच में जाने की। उन्होंने कहा कि नौकरी में आने के बाद व्यक्ति केवल शासकीय सेवक होता है। लिंग, जाति कुछ नहीं होता। वह केवल अधिकारी होता है। भारत का संविधान किसी को मारने की इजाजत नहीं देता। कलेक्टर-डिप्टी कलेक्टर ने हमारे कार्यकर्ताओं, कर्मचारियों को पीटा, क्या पागल हो गए थे। विक्षिप्त हो गए थे। आपका काम केवल प्रशासन चलाना होता है।

यह थप्पड़ कांग्रेस सरकार के ताबूत में आखरी कील होगी-राकेश सिंह

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि दिग्गी राजा सुन लो, यहां भारत मां का अपमान हो रहा है, ऐसा क्यों। प्रदेश की धरती पर कहीं भी आ जाओ। भाजपा का कार्यकर्ता चुनाव मैेदान में आपसे हिसाब चुकता करेगा। कमलनाथ चैन की नींद सो रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिग्गी-कमलनाथ सुन लो। यह भाजपा तब नहीं डरी, जब दो सांसद थे। अब 16 करोड़ से ज्यादा कार्यकर्ता हैं। कायदा तो यह कहता है कि तत्काल कार्रवाई करना चाहिए थी। रवि बड़ोने यह थप्पड़ आपके गाल पर नहीं पड़ा है, बल्कि इन्होंने ऐसा करके कांग्रेस की सरकार के ताबूत में आखरी कील ठोकी है।

अहंकार को माटी में मिला देंगे-शिवराजसिंह चौहान

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह ने कहा कि सरकारें आती हैं, जाती हैं। संविधान सदैव रहने वाला है। आप एक प्रक्रिया के तहत काम करो, नहीं तो अहंकार पीसकर माटी में मिला दिया जाएगा। हमें छेड़ने की कोशिश की है। हम मचले तो इतिहास बदल देंगे। उन्होंने कहा कि क्या सोचा था मैडम आपने। आप कार्यकर्ताओं को थप्पड़ मारोगी, तिरंगे का अपमान करोगी और हम घरों में भरा जाएंगे। यह सरकार के कफन में आखरी कील होगी। आप प्रशासनिक अधिकारी है। क्या संविधान आपको मारने का अधिकार देता है। मैं भी 10 चुनाव जीता हूं। पांच बार सांसद व तीन बार मुख्यमंत्री रहा हूं। ऐसा कलेक्टर कभी नहीं देखा। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक अमरसिंह यादव की कॉलर पकड़कर खींचा गया। दचक दिया। यदि अमरसिंह का हाथ उठ जाता तो…। लेकिन वह भाजपा का कार्यकर्ता है। भाजपा संस्कार सिखाती है, इसलिए ऐसा नहीं हुआ। पता नहीं सत्ता के किस मद में ऐसा किया।
पूर्व राज्यमंत्री ने कहे अशोभनीय शब्द

पूर्व राज्य मंत्री बद्रीलाल यादव ने कलेक्टर को लेकर अशोभनीय शब्द कहे। साथ ही भी कहा कि इस बयान को गलत तरीके से मत लेना। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग कार्यक्रम करते हैं तो उन्हें करने दिया जाता है। भाजपा के लोग कार्यक्रम करते हैं तो उन्हें चांटे, डंडे मारे जाते हैं।
एडिशनल एसपी को मंच पर दिया आवेदन

सभा के बाद पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि हम अधिकारियों पर एफआईआर के लिए आवेदन देंगे। यदि पुलिस अधिकारी चाहें तो यहां आ जाएं और नहीं तो फिर हम थाने के लिए कूच करते हैं। जिस पर एडिशनल एसपी एनएस सिसौदिया मंच पर पहुंचे और आवेदन लिया। इसके बाद सभा समाप्त हो गई।

सभार नवदुनिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here