शहद एक ऐसी चीज़ है जिसे हम पूजा पथ से लेकर खाना बनाने और दैनिक दिनचर्या में भी इसका यूज़ करते है बड़े बुजुर्गो का मानना था की शहद खाने से शरीर में ताकत भी आती है. यह एक बहुत ही लाभकारी प्राकृतिक यौगिकों में से एक है, जिसका इस्तेमाल रिफाइंड शुगर की जगह किया जाता है. यदि रिफाइंड शुगर या परिष्कृत चीनी के बजाय शुद्ध शहद का उपयोग करेंगे तो यह काफी हेल्थफुल हो सकता है. आज हम आपको शहद के इतने फायदे बताएंगे जो शायद अपने पहले कभी न सुनें होंगे.

इम्म्यून सिस्टम बूस्टर

शहद में अनगिनत औषधीय गुण होते हैं जो स्वाभाविक रूप से गले में खराश को ठीक करने में मदद करते हैं. इसकी एंटीऑक्सिडेंट और बैक्टीरिया से लड़ने की शक्ति वायरस, बैक्टीरिया और कवक के कारण होने वाले इन्फेक्शन/संक्रमण से लड़ने में मदद करती है. वैज्ञानिकों के अनुसार, बकव्हीट जो कि एक प्रकार का शहद है जिसमे में सबसे अधिक एंटीऑक्सिडेंट होते हैं. जब दैनिक रूप से इसका सेवन किया जाता है तो लंबे समय तक यह इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए फायदेमंद हो सकता है.

Also Read – मशहूर आर्किटेक्चर और पद्म भूषण से सम्मानित बालकृष्ण दोशी का निधन

शहद के फायदे

शहद में विटामिन ए, बी, सी, आयरन, कैल्शियम, सोडीयम फास्फोरस, आयोडीन पाए जाते हैं. रोजाना शहद का सेवन शरीर में शक्ति, स्फूर्ति, और ताजगी पैदाकर रोगों से लड़ने की शक्ति भी बढ़ाता है.

याददाश्त बढ़ाए

बुढ़ापे में हमारे मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत बनाने में शहद मदद करता हैं. जैसे कि हमने ऊपर बताया है कि शहद एक प्राकृतिक स्वीटनर होता है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं, जिनमें मेमोरी/स्मृति और एकाग्रता को बढ़ावा देना शामिल है.

शहद और निम्बू

पानी पीना भी आपके वेट मैनेजमेंट में सहायता करता है. यदि आप शहद और निम्बू का पानी पिएंगे तब यह स्वस्थ वजन को बढ़ावा देने में सहायता करेगा. आप उच्च-कैलोरी, शर्करा युक्त सोडा और अन्य मीठे पेय को शहद और निम्बू के पानी से बदल कर अपने कैलोरी की मात्रा और शुगर की मात्रा को कम कर सकती हैं जो एक प्रकार से आपके वजन को नियंत्रित करने में आपकी सहायता करेगा.

Also Read: जोमैटो ने लॉन्च किया ये नया प्लान, यूजर्स को मिलेंगे ढेरो डिस्काउंट और फ्री डिलिवरी