देश में गांधी और गोडसे एक साथ नहीं चल सकते : PK

0

नई दिल्ली। जेडीयू से निष्कासित होने के बाद चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पहली बार पटना पहुंचे। जहां उन्होंने मीडिया से बातचीत कर कहा कि सीएम नीतीश कुमार के साथ मेरा कोई राजनीतिक संबंध नहीं रहा है। उन्होंने मुझे बेटे की तरह रखा।

पीके ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने मुझे निकाला है तो मैं उनके सारे फैसले को हृदय से स्वीकार करता हूं। वे पार्टी में रखना चाहते हैं अथवा नहीं, ये उनका विशेषाधिकार था मैं उनके फैसले का सम्मान करता हूं।

अपने और नीतिश कुमार के साथ मतभेद पर भी पीके ने कहा कि दो बातों पर हमारा मतभेद था नीतिश कुमार एक तरफ गांधी, लोहिया और जेपी की बातों को मानने की बात करते हैं लेकिन वहीं वे गोडसे की विचारधारा के साथ कैसे खड़े हैं। गांधी गोडसे एक साथ नहीं चल सकते हैं।

इस बात को लेकर नीतिश और मेरे बीच मतभेद था। वहीं दूसरा मतभेद जेडीयू के भाजपा के साथ गठबंधन को लेकर था। पहले भी भाजपा के साथ गठबंधन रहा है लेकिन आज की स्थिति में पहले से अलग है।