मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का आज चौथा दिन हैं। इसी बीच कांग्रेस विधि प्रकोष्ठ की शिकायत पर राजधानी के सिविल लाइन थाने में एमपी बीजेपी मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा में वीडियो की टेंपरिंग कर आपत्तिजनक पोस्ट करने का कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया है। कांग्रेस विधि प्रकोष्ठ के महेंद्र देवांगन तथा अन्य कांग्रेसी टेंपरिंग वीडियो ट्विट करने वाले खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने सिविल लाइंस थाना पहुंचे।

दरअसल इस पदयात्रा का एक 20 सेकेंड का वीडियो क्लिप मध्य प्रदेश बीजेपी के मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने ट्विटर पर शेयर कर भारत जोड़ो यात्रा में ‘पकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगने का आरोप लगाया है। इसके बाद मध्य प्रदेश में बीजेपी के सभी दिग्गज नेताओं ने इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते कांग्रेस को घेरने शुरू कर दिया। इस मामले में छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने थाने में शिकायत की है. रायपुर पुलिस ने शुक्रवार को ही रायपुर के सिविल लाइन थाने में अंकित मिश्रा की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर लिया है। लोकेंद्र पाराशर के खिलाफ रायपुर में धारा 153 (क), 504, 505 (1),505 (2). 120 (बी) के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

Also Read – इंदौर की सबसे चहेती डीजे जोड़ी OnePlusOne ने पूरे विश्व में भारत का नाम किया रोशन

पुलिस के मुताबिक कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश पहुंची है। इसी बीच किसी हितेंद्र नामक व्यक्ति ने अपने ट्विटर हैंडल में किसी दूसरे वीडियो जिसमें कुछ लोग आपत्तिजनक नारे लगा रहे हैं। उस वीडियो को एडिट कर हितेंद्र ने राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से जोड़ते हुए ट्विट कर कांग्रेस की छवि धूमिल करने की कोशिश की है। इस कृत्य को लेकर कांग्रेसी नेता ट्विट करने वाले व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने थाना पहुंचे हैं। कांग्रेस नेताओं की शिकायत के बाद पुलिस ट्विट करने वाले के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच करने के बाद वैधानिक कार्रवाई करने की बात कह रही है।