कमलनाथ जी के कुशल नेतृत्व से अंजड़ नगर परिषद में कांग्रेस की विजय, जनता की आवाज बुलंद हुई: कांग्रेस

बड़वानी जिले की अंजड़ नगर परिषद की तत्कालीन अध्यक्ष संतोष शेखर पाटनी के असामयिक निधन के बाद मप्र शासन द्वारा असंवैधानिक एवं गैर लोकतांत्रिक तरीके से अंजड़ नगर परिषद में अध्यक्ष पद का मनोनयन कर दिया गया था।

kamalnath

भोपाल : बड़वानी जिले की अंजड़ नगर परिषद की तत्कालीन अध्यक्ष संतोष शेखर(Santosh Shekhar) पाटनी के असामयिक निधन के बाद मप्र शासन द्वारा असंवैधानिक एवं गैर लोकतांत्रिक तरीके से अंजड़ नगर परिषद में अध्यक्ष पद का मनोनयन कर दिया गया था। पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस(Congress) के वरिष्ठ नेता विधायक बाला बच्चन(Bala Bachhan) द्वारा असंवैधानिक तरीके से हुये इस मनोनयन को लेकर नगरीय प्रशासन मंत्री, प्रमुख सचिव, नगरीय प्रशासन को पत्र लिखा गया था तथा विधानसभा में भी प्रश्न लगाकर कार्यवाही की मांग की गई थी लेकिन उसके बाद भी असंवैधानिक तरीके से मनोनयन कर दिया गया।

Must Read :अपने ग्राहकों के लिए EPFO ने जारी किया अलर्ट, UAN पर जाने नया अपडेट!

जिसके विरूद्व माननीय उच्च न्यायालय की इंदौर खंडपीठ द्वारा राज्य निर्वाचन आयोग को अंजड़ नगर परिषद मंे पार्षदांे में से अध्यक्ष निर्वाचित किये जाने के निर्देश दिये गये और जिसके फलस्वरूप 28 जनवरी को अंजड़ नगर परिषद अध्यक्ष पद के लिए पार्षदों द्वारा मतदान किया गया। अंजड़ में नगर परिषद अध्यक्ष के लिए को कांग्रेस पार्टी की ओर से उम्मीदवार बनाया गया।

Must Read :इस शख्स ने बनाया था CM पर आपत्तिजनक वीडियो, अब मुंबई पुलिस की गिरफ्त में

बाला बच्चन ने कहा कि पार्षदों द्वारा किये गये मतदान के दौरान 11 मत कांग्रेस प्रत्याशी, 2 मत भाजपा प्रत्याशी को मिले और 1 मत निरस्त हुआ, जिसमें अंजड की वार्ड क्रमांक 03 की कांग्रेस प्रत्याशी पुष्पा संजय परमार नगर परिषद अध्यक्ष पद पर विजयी हुई। बच्चन ने कहा कि यह प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के कुशल नेतृत्व मंे लोकतंत्र की विजय हुई व अंजड़ नगर परिषद क्षेत्र की जनता की आवाज बुलंद हुई है।