इंदौर। कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशी संजय शुक्ला आज जब इंदौर के सांसद के निवास के क्षेत्र में गए तो वहां के नागरिक समस्याओं से परेशान नजर आए। इन नागरिकों ने अपनी समस्याओं की शिकायत शुक्ला से की। शुक्ला ने इस मौके पर नागरिकों से चर्चा करते हुए कहा कि सांसद के निवास वाले क्षेत्र में कोई पानी से परेशान है तो कोई सीवरेज की लाइन से परेशान है। इन नागरिकों के द्वारा सांसद से अपनी समस्याओं की शिकायत की गई लेकिन फिर भी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ सांसद खुद भाजपा के हैं। प्रदेश में सरकार भाजपा की है। इसके बावजूद नागरिकों की समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है। इससे स्पष्ट है कि भाजपा और उसके नेताओं की रूचि नागरिकों की समस्याओं का हल करने में नहीं बल्कि अपना काम धंधा करने में है।

उन्होंने कहा कि बात केवल इस क्षेत्र की नहीं है। ऐसी हालत पूरे इंदौर में हो रही है शहर के मध्य क्षेत्र को खोदकर पटक दिया गया है। 6 महीने में जो सड़क बन जाना चाहिए थी, वह आज 9 महीने हो जाने के बाद भी नहीं बनी है। कहीं पर सड़क बनने के बाद सीवरेज की लाइन डाल रहे हैं तो कहीं पर पानी की लाइन डालने का काम कर रहे हैं। बारिश के इस मौसम में पूरे शहर की हालत बद से बदतर हो रही है। इसके बाद भी भाजपा विकास का दावा करती है।

Must Read- क्षेत्र क्र. 2 के जनसंपर्क में हुआ जोरदार स्वागत, विजयवर्गीय- मेंदोला के निवास पर जाकर भी संजय शुक्ला ने लिया आशीर्वाद

शुक्ला के द्वारा आज मंगलवार को अपने जनसंपर्क की शुरुआत नाथ मंदिर चौराहा से की गई । उनके द्वारा आज वार्ड क्रमांक 55 , 63, 64 में घर-घर जाकर जनसंपर्क किया गया। जब शुक्ला जनसंपर्क करने के लिए व्यापारी क्षेत्र छावनी में पहुंचे तो सारे व्यापारी अपनी दुकानों से निकलकर सड़क पर आ गए। इन व्यापारियों ने रंग गुलाल उड़ाकर शुक्ला का स्वागत किया व्यापारियों के साथ शुक्ला ने संवाद भी किया।

इस संवाद में व्यापारियों ने इंदौर नगर निगम के द्वारा किए जा रहे अत्याचार की कहानी सुनाई । इस जनसंपर्क में प्रमुख रूप से पूर्व विधायक अश्विन जोशी, पिंटू जोशी, अर्चना जायसवाल, छोटे यादव, अरविंद बागड़ी, टंटू शर्मा,शैलेश गर्ग, विनय बाकलीवाल शामिल हुए।

 

भाजपा नेता द्वारा स्वागत

जनसंपर्क के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी शुक्ला भाजपा के वरिष्ठ नेता उमेश शर्मा के निवास पर पहुंचे । वहां शर्मा के द्वारा उनका जोरदार स्वागत किया गया । इसके साथ ही भगवान परशुराम की प्रतिमा भी भेंट की गई ।

शोक व्यक्त करने पहुंचे

जन संपर्क करते हुए जब शुक्ला पारसी मोहल्ला में पहुंचे तो मालूम पड़ा कि वहां पर एक परिवार में गमी हो गई है । यह जानकारी मिलते ही शुक्ला उस परिवार में गए और उन्होंने शोक संतप्त परिवार को ढाढस बंधाया ।