धार: डूब रहे हैं खेत, कभी भी घुस सकता है नजदीकी गांव में पानी, डायवर्ट किया गया एबी रोड का ट्रैफिक

धार के कारम डैम ने विकराल रूप धारण कर लिया है.

धार: धार के कारम डैम से तेज भाव से पानी निकल रहा है जिसके बाद खतरा बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है. बता दें कि लीकेज के बाद डैम को खाली करने के लिए बांध की दीवार को तोड़कर पानी छोड़ा जा रहा था. तेज पानी के बहाव के चलते उस दीवार का बड़ा हिस्सा बह गया है जिसके बाद पानी का बहाव काफी तेज है. बांध से लगे हुए खेतों में पानी घुसना शुरू हो चुका है.

स्थिति को देखते हुए बताया जा रहा है कि डैम के सबसे नजदीक इससे जहांगीर पुरा और पारस पुरा कभी भी डूब सकते हैं. इसके अलावा आसपास मौजूद गांव में पानी घुसने की आशंका जताई जा रही है. कुछ लोग अभी भी गांव में मौजूद है जिन्हें हटाने के लिए प्रशासन मुस्तैदी से जुड़ा हुआ है. लोगों के साथ मवेशियों को भी सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है. डैम के आसपास के 4 किलोमीटर के इलाके तक आवाजाही पूरी तरीके से रोक दी गई है. किसी को पैदल भी नहीं जाने दिया जा रहा है.

Must Read- Karam Dam में बहा मिट्टी का टीला, कभी भी टूट सकता है बांध

इस मामले में जानकारी देते हुए मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव ने बताया कि बांध का आधा पानी निकल चुका है. कुछ गांव के करीब पानी पहुंचा है लेकिन अंदर नहीं घुसा है. रात 12 बजे के आसपास तालाब से 10 से 12 एमक्यूएम पानी निकल जाएगा. इसके बाद खतरा पूरी तरीके से टल जाएगा.

कारम नदी का पानी तेजी से बहने की वजह से बड़वा नदी में उफान देखा जा रहा है. डैम से लगभग 25 किलोमीटर दूर बड़वी शाम 7 बजे से ही डूबना शुरू हो गया था. पुल पर करीब 10 फीट तक पानी आ गया है. यह पुल 100 मीटर लंबा है और लगातार बढ़ते पानी के स्तर के चलते प्रशासन ने सख्ती से वहां से लोगों को हटाकर बैरिकेड लगा दिए हैं. इस रोड पर आवाजाही बंद हो गई है जिसकी वजह से बड़वाह से धामनोद जाने वाली गाड़ियों को डायवर्ट करते हुए मंडलेश्वर से कसरावद होते हुए धामनोद भेजा जा रहा है.

डैम के पानी का तेज बहाव देखते हुए एबी रोड पर भी ट्रैफिक के दबाव को कम किया गया है। धामनोद से सरदार लिंक रोड बंद कर दिया गया है और ट्रैफिक को डायवर्ट कर दिया गया है ताकि कोई भी अप्रिय स्थिति ना बने. अफसर लगातार हालातों पर नजर बनाए हुए हैं और कई बार हवाई सर्वे किया जा चुका है.