दिल्ली हिंसा: मस्जिद पर हमले का सच, फर्जी ख़बरों से रहे सावधान

दिल्ली पुलिस ने इस वीडियो को पूरी तरह झूठ करार देते हुए कहा कि अशोक विहार के इलाके में ऐसी कोई भी घटना सामने नहीं आई है। दिल्ली पुलिस ने नॉर्थ वेस्ट इलाके के डीसीपी ने कहा, कृपया झूठी जानकारी सोशल मीडिया पर देने से बचें।

delhi violence

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अबतक करीब 20 लोगों की मौत हो गई है। कई इलाकों में भड़की हिंसा में 56 पुलिसकर्मियों समेत करीब 200 लोग घायल बताए जा रहे हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर हिंसा को लेकर कई भड़काऊ संदेश और फर्जी फोटो-वीडियो फैलाए जा रहे है।

ऐसा ही एक वीडियो मंगलवार को सोशल मीडिया पर खूब शेयर हुआ। वायरल वीडियो दिल्ली के अशोक विहार इलाके का बताया जा रहा है। वीडियो में दावा किया जा रहा है कि यहां एक मस्जिद पर हमला किया गया।

हालांकि दिल्ली पुलिस ने इस वीडियो को पूरी तरह झूठ करार देते हुए कहा कि अशोक विहार के इलाके में ऐसी कोई भी घटना सामने नहीं आई है। दिल्ली पुलिस ने नॉर्थ वेस्ट इलाके के डीसीपी ने कहा, कृपया झूठी जानकारी सोशल मीडिया पर देने से बचें।

Image

सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों पर चिंता जताते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया है। सिसोदिया ने ट्वीट कर लोगों से अपील की, ‘कई जगह अफ़वाहें फैलाने का काम भी हो रहा है। जब तक कोई घटना आप अपनी आंखों से होते न देखें तब तक न तो ऐसी बातों पर यक़ीन करें और न ही इस तरह के Whatsapp मैसेज को किसी को भेजें। ऐसे नाज़ुक समय पर सबसे बड़ा योगदान अफ़वाहें न फैलाना भी है’।