दिल्ली हिंसा : डॉक्टर्स ने की सुरक्षा की मांग, आधी रात को कोर्ट के जज ने लगाईं अदालत

delhi high court

नई दिल्ली : मंगलवार को कई सरकारी और निजी अस्पतालों के डॉक्टरों की एक संस्था ने पुलिस सुरक्षा के लिए देर रात दिल्ली की हाईकोर्ट लगी. बता दें कि संस्था मुस्तफाबाद क्षेत्र में नागरिकता कानून को लेकर की गई हिंसा में घायल लोगों को अपनी सुविधा देना चाहती है. जानकारी के अनुसार, संस्था ने याचिका दाखिल कर यह मांग की थी कि हिंसाग्रस्त इलाकों में डॉक्टरों, मेडिकल कर्मचारियों और एंबुलेंस को पुलिस सुरक्षा दी जाए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में CAA के विरोध में भड़की हिंसा को देखते हुए जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया है. पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है.इस हिंसा में मरने वालों की संख्या 9 तक पहुंच गई हैं, वहीं 135 कोग घायल बताए जा रहे है. बताया जा रहा है कि इस बवाल में एक पत्रकार को भी गोली लगी है.

पत्थरबाजों ने पांच बाइक को आग के हवाले कर दिया है. इधर, दिल्ली हिंसा की वजह से मेट्रो सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हो रही है. दिल्ली मेट्रो ने जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जोहरी एनक्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया है.