Cyber Crime : ऑनलाइन KYC के नाम पर ठगे लाखो रुपए, Crime Branch ने कराया रिफंड

पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर कमिश्नरेट में लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुये आर्थिक ठगी करने वाले एवं सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर अपातिजनक पोस्ट व हैकिंग करने वाले अपराधियों की पहचान कर विधिसंगत कार्यवाही करते हुये उनकी धरपकड़ करने हेतु प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं।

indore news

इंदौर(Indore) : पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर हरिनारायणचारी मिश्र(Harinaryanchari Mishra) व्दारा इंदौर कमिश्नरेट में लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुये आर्थिक ठगी करने वाले एवं सोशल मीडिया(Social Media) पर फर्जी अकाउंट बनाकर अपातिजनक पोस्ट व हैकिंग करने वाले अपराधियों की पहचान कर विधिसंगत कार्यवाही करते हुये उनकी धरपकड़ करने हेतु प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। उक्त निर्देशों के अनुक्रम में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) राजेश हिंगणकर के मार्गदर्शन में पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) निमिष अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (क्राईम ब्राँच) गुरू प्रसाद पाराशर द्वारा ऑनलाईन ठगी एवं सोशल मीडिया संबंधी अपराधो की रोकथाम हेतु क्राइम ब्रांच फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन टीमों को लगाया गया है ।

Read More : 😱Twitter के बाद अब Coca Cola कंपनी खरीदेंगे Elon Musk😳? इतिहास में होगी सबसे बड़ी डील🤯

फ्रॉड इंन्वेस्टीगेशन सेल टीम द्वारा आवेदक प्रदीप जैन निवासी 14 साउथ राजमोहल्ला,इंदौर से फ्राड की संपुर्ण जानकारी लेकर जांच की जिसमे ज्ञात हुआ कि आवेदक का बैंक खाता HDFC बैंक में होकर ठग द्वारा आवेदक को कॉल कर बैंक kyc अपडेट करने का झूठ बोलकर आवेदक को एक लिंक मैसेज के माध्यम से भेजी गई जिस पर आवेदक के द्वारा क्लिक करते जानकारी भरने पर UPI पासवर्ड की जानकारी ठग के पास चली गई ठग द्वारा आवेदक के बैंक खाते से UPI के माध्यम से ₹1,23,986/– की ठगी कर किसी अन्य RBL बैंक के क्रेडिट कार्ड खाते में ट्रांसफर कर ठगी की गई थी ।

जिसमे तत्काल क्राईम ब्रांच इंदौर की फ्राड इंन्वेस्टीगेशन सेल द्वारा आवेदक से ट्रांजेक्शन की जानकारी लेकर HDFC Bank व RBL बैंक से संपर्क कर, आवेदक की आहरित राशि 1,23,986/– रूपये स्वंय के बैंक खाते मे सकुशल वापस कराये गये। आवेदक प्रदीप जैन द्वारा 1,23,986/– रूपये जैसी बड़ी रकम वापस प्राप्त करने पर क्राइम ब्रांच टीम द्वारा कराए रिफंड पैसों के लिए कार्यालय उपस्थित होकर पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) निमिष अग्रवाल जी को प्रमाण पत्र के साथ धन्यवाद दिया।

Read More : छोटे बेटे Jeh के साथ स्पॉट हुई Kareena Kapoor, ड्रेस की वजह से हुई ट्रोल!!

आमजन को सूचित किया जाता है की किसी भी अनजान व्यक्ति के द्वारा बैंक अधिकारी/कर्मचारी बनकर बैंक kyc update के नाम से भेजी गई लिंक पर क्लिक न करे । अन्यथा आप भी ठगी का शिकार हो सकते है, इस तरह की घटना की सूचना तुरंत अपने नजदीकी थाने पर दे या क्राइम ब्रांच इंदौर पुलिस द्वारा संचालित सायबर हेल्पलाइन नं. 704912-4445 पर सूचित करे।