गुजरात में लगातार बढ़ रहीं है कांग्रेस की मुश्किलें, भाजपा में शामिल हो सकते है 6 विधायक

हाल ही में पार्टी के दो दिग्गज नेताओं ने इस्तीफा दे दिया था औग अब 6 नेता कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थामने को तैयार हैं।

गुजरात में इसी साल संभवत दिसम्बर में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। यहां पर कांग्रेस की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रहीं हैं। हाल ही में पार्टी के दो दिग्गज नेताओं ने इस्तीफा दे दिया था औग अब 6 नेता कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थामने को तैयार हैं। उन्होंने इस बाबत भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल से मुलाकात करके बातचीत भी हुई है।

कांग्रेस नेता लगातार पार्टी की मुश्किलें बढ़ते नजर आ रहें हैं। भाजपा में शामिल होकर कांग्रेस को बड़ा झटका देने वाला साबित होगा क्योंकि इनमें से चार विधायक पाटीदार समुदाय से जुड़े हुए हैं। पाटीदार समुदाय से ताल्लुक रखने वाले बड़े चेहरे हार्दिक पटेल पहले ही भाजपा में शामिल हो चुके हैं। ऐसे में पाटीदार वोट बैंक में कांग्रेस को बड़ा झटका लग सकता है।

Also Read : ‘अनुपमा’ की काव्या असल जिंदगी में है इतनी बोल्ड, तस्वीरें देख हो जाएंगे हैरान

गुजरात में विधानसभा चुनाव नजदीक होने के कारण भाजपा ने पूरी ताकत झोंक रखी है तो दूसरी ओर कांग्रेस अपना कुनबा सहेजने में ही जुटी हुई है। राज्य में कांग्रेस को लगातार झटके लग रहे हैं। हाल में पार्टी के दो बड़े नेताओं राजू परमार और नरेश रावल ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। पार्टी इस झटके से उबरने की कोशिश में जुटी हुई है मगर अब पार्टी को और बड़ा झटका लग सकता है।

पार्टी नेतृत्व की ओर से राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को गुजरात का प्रदेश प्रभारी बनाया गया है। विधानसभा चुनाव में पार्टी को एकजुट रखने की कवायद की जा रही है। इसी सिलसिले में गहलोत आज गुजरात के दौरे पर पहुंचने वाले हैं। वे सूरत और राजकोट में दक्षिण और सौराष्ट्र जोन के कांग्रेस नेताओं से मुलाकात करेंगे। गहलोत बुधवार को वडोदरा और अहमदाबाद में पार्टी नेताओं के साथ बैठक भी करेंगे। वैसे अशोक गहलोत को पार्टी से नाराज विधायकों को मनाने में कामयाबी मिलने की उम्मीद काफी कम दिख रही है।