इंदौर : इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र में हुई आज सीएम शिवराज सिंह चौहान की सभा को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तंखा ने भारतीय जनता पार्टी को आड़े हाथों लिया है. तंखा ने इस संबंध में मध्य प्रदेश शासन के मुख्य सचिव को एक पत्र लिखा है. सभा के पहले लिखे गए पत्र में विवेक तंखा ने कहा कि, सभा में 600 से अधिक बसों का इस्तेमाल किया जाएगा. इस दौरान प्रत्येक बस संचालक को 30 लीटर डीजल और 8-10 हजार रु देने का फरमाना जारी हुआ है.

विवेक ने प्रदेश की भाजपा सरकार को निर्दयी बताते हुए लिखा कि, पिछले 6 माह से बसें बंद है, तब भाजपा को दया नहीं आई. जबकि अब सभा के लिए बसें बुलाई जा रही है. लॉक डाउन के दौरान बस संचालकों से टैक्स वसूला गया, जबकि अब भाजपा ने सभा के लिए बसें बुलाई है. तन्खा ने इस दौरान मुख्य सचिव को लेकर भी नाराजगी जाहिर की और कहा कि, आपके कार्यालय की नाक के नीचे ऐसा आदेश असंभव है. जबकि आप मध्यप्रदेश के वरिष्ठ एवं जिम्मेदार व्यक्ति है. प्रदेश आपको एक निष्पक्ष अधिकारी के रूप में देखना चाहता है. आपकी 35 वर्षों की यात्रा निष्पक्ष रही है और उम्मीद है कि आगे आप इसे जारी रखें.

तंखा ने आगे लिखा कि, संकट के समय में आपके जिम्मेदारी कई हद तक बढ़ जाती है, वो भी ऐसे में जब जल्द ही प्रदेश में उपचुनाव की तारीख़ों और आचार संहिता का ऐलान होने जा रहा है. वहीं तंखा ने इंदौर कलेक्टर पर आरोप मढ़ते हुए कहा वे ऐसी स्वस्थ कार्यप्रणाली के विरुद्ध काम करते हैं.