Homeइंदौर न्यूज़महिला सफाई मित्रों हेतु आयोजित वर्कशॉप का समापन, महिला स्वास्थ्य के संबंध...

महिला सफाई मित्रों हेतु आयोजित वर्कशॉप का समापन, महिला स्वास्थ्य के संबंध में दी विस्तार से जानकारी

इंदौर। स्वच्छ सर्वेक्षण की निर्धारित गाइडलाइन तथा मध्य प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार नगर निगम इंदौर में महिला फ्रंटलाइन (सफाईमित्र) और समुदायों के लिए जल, सफाई और स्वच्छता की आवश्यकताओं पर 2 दिवसीय कार्यशाला के नॉलेज पार्टनर Usaid, nistha, jhpiego के सहयोग से कार्यशाला का ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर पर सांसद संभाग आयुक्त एवं निगम प्रशासक डॉ पवन कुमार शर्मा, आयुक्त श्री प्रतिभा पाल द्वारा समापन किया गया।

इस अवसर पर अतिथि द्वारा महिला सफाई मित्रों हेतु आयोजित वर्कशॉप में सहयोग करने पर डॉक्टर सुमित्रा यादव, जपायो श्री आनंद बैरागी, श्रीमती गीता, सुश्री रोशनी, श्री प्रतीक मोदी, श्री श्री गोपाल जगताप अन्य सहयोगी संस्थाओं के प्रतिनिधियों का प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया गया।

महिला फ्रंटलाइन सफाई मित्र और समुदायों के उभरते जल स्वच्छता और स्वच्छता आवश्यकता पर आयोजित कार्यशाला में डॉक्टर सुमित्रा यादव, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मुक्ता जैन, पोषण विशेषज्ञ भारतीय बाल विकास अधिकारी डॉ अनिता जोशी, राष्ट्रीय एम एच एम. सलाहकार यूनिसेफ सुश्री जेनिफर सेल्वाराज द्वारा कार्यशाला में विस्तार से स्वच्छता एवं स्वास्थ्य, सफाई मित्रों के बीच आशाओं को बढ़ावा देने की दिशा में कदम, इंदौर में वॉश सेक्टर की यात्रा, महिला स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और प्राथमिकता देने के लिए सरकार की दृष्टि, महिलाओं और किशोरों में मासिक धर्म, स्वास्थ्य और स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए स्वच्छ भारत मिशन में प्रावधान, स्वस्थ स्वच्छता व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए साझेदारी बनाना, महिला स्वास्थ्य एवं स्वच्छता की जरूरत स्थिरता और मान्यता के लिए सामुदायिक स्वामित्व के संबंध में आवश्यक जानकारी दी गई। इस अवसर पर अपर आयुक्त श्री संदीप सोनी, श्री अभय राजनगांवकर, अधीक्षण यंत्री श्री महेश शर्मा, बड़ी संख्या में महिला सफाई मित्र एवं अन्य उपस्थित थे।

इंदौर नगर निगम द्वारा यू.एस.ऐड, निष्ठा जपाईगो, यूनिलीवर, निष्ठा जपाईगो के सहयोग से सफाई मित्रों की पानी, स्वास्थ्य और स्वच्छता की उभरती आवश्यकताओं के संबंध में दो दिवसीय कार्यशाला का समापन ब्रिलायंट कन्वेंशन सेंटर में संभाग आयुक्त एवं नगर निगम प्रशासक डॉ पवन कुमार शर्मा, निगमायुक्त सुश्री प्रतिभा पाल, की उपस्थिति में संपन्न हुआ।

कार्यशाला के प्रथम दिन विशेषज्ञों द्वारा माहवारी के दोरान स्वच्छता, पोषक आहार और साफ़-सफाई से जुड़े मुद्दों पर जागरूकता उत्पन्न करने पर जोर दिया गया, इसी तारतम्य में पोस्टर का विमोचन किया गया एवं हेल्थ केंप का आयोजन किया गया, कार्यशाला में सफाई मित्रों, स्वयं सहायता समूह सदस्यों, विद्यार्थियों एवं अन्य प्रतिभागियों ने पानी, स्वास्थ्य और स्वच्छता से सम्बंधित अपने अनुभव को साँझा किये।

कार्यशाला के दूसरे दिन के सफाई मित्रों को घर पर सेनिटरी पैड कैसे बनाये जा सकते है इसका प्रशिक्षण प्रदान किया गया, माहवारी के दौरान उपयोग में आने नए साधनों की जानकारी प्रदान की गई, सफाई मित्रो में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक नाटक का मंचन किया गया, सफाई मित्रों ने समूह कार्य के माध्यम से अपनी अनुसनशाये निगम को अवगत कराई

संभाग आयुक्त एवं निगम प्रशासक डॉ पवन कुमार शर्मा ने कहा कि निगम द्वारा महिला सफाई मित्रों के लिए आयोजित वर्कशॉप कि मैं सराहना करता हूं कि आप के विश्वास और मेहनत से इंदौर ने स्वच्छता में यह मुकाम पाया है।उन्होंने महिला सफाई मित्र के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता दिखाते हुए यह वर्कशॉप आयोजित की गई है। उन्होंने कहा की इस वर्कशॉप में महिलाओं के साथ ही पुरुष भी सम्मिलित हुए हैं, इससे महिलाओं को स्वास्थ संबंधी दिक्कतें आने पर वह अपने परिवार के पुरुष सदस्य से भी चर्चा कर सकती हैं। इसके लिए मैं निगम प्रशासन की टीम को बधाई देता हूं या सतत प्रयास कहे कि महिला सफाई मित्रों के स्वास्थ्य के प्रति हम सभी जागरूक रहें।

आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने कहां की दो दिवसीय कार्यशाला में महिला सफाई मित्रों एवं सहयोगी संस्थाओं से प्राप्त फीडबैक को आगामी स्वच्छता किट में भी शामिल किया जाएगा ताकि महिला सफाई मित्रों की समस्याओं के साथ ही सुविधाओं को भी ध्यान में रखते कार्य किया जा सके। आयुक्त सुश्री पाल ने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण के दौरान इंदौर की महिला सफाई मित्रों द्वारा अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है और सर्वेक्षण की गाइडलाइन अनुसार महिला सफाई मित्रों में अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता आए एवं महामारी के समय किस प्रकार अपने आप को सुरक्षित रखना है इसके लिए आज यूएसएआईडी, यूनिसेफ, निष्ठा, जेपीगो के सहयोग से यह कार्यशाला आयोजित की गई है। इस कार्यशाला में हम सभी महिला सफाई मित्रों के स्वास्थ्य के साथ ही महामारी के समय किस प्रकार सुरक्षित रहे इस पर चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण का उद्देश्य हमने प्राप्त किया है इसके साथ ही स्वच्छता दीदी की सुरक्षा एवं स्वास्थ्य के लिए भी हम सभी को मिलकर कार्य करना है

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular