Indore में चलाए जा रहा स्वच्छता अभियान, नागरिकों के साथ जनप्रतिनिधि भी है सजग

आयुक्त प्रतिभा पाल (Pratibha pal) ने बताया कि इंदौर (Indore) शहर में चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान...

इंदौर : आयुक्त प्रतिभा पाल (Pratibha pal) ने बताया कि इंदौर (Indore) शहर में चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान और लगातार पांच बार स्वच्छता में नंबर वन इंदौर शहर सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट एवं स्वच्छता कार्यप्रणाली के तहत न्याय नगर में डोर टू डोर कचरा संग्रहण कार्य, मूसाखेड़ी चौधरी पार्क में सुखे नाले का अवलोकन, स्टार चौराहा स्थित कचरा ट्रांसफर स्टेशन, सिटी बस ऑफिस कंट्रोल कमांड सेंटर का आज देश के विभिन्न प्रदेशों के स्वच्छ भारत मिशन एवं नगरीय निकाय के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा अवलोकन किया गया एवं क्षेत्रीय नागरिकों से चर्चा की गई। इस अवसर पर क्षेत्रीय पूर्व पार्षद राजेंद्र राठौड़ कमल यादव, अधीक्षण यंत्री अनूप गोयल, महेश शर्मा, एनजीओ बेसिक्स के गोपाल जगताप, अभिषेक अविनाश एवं अन्य उपस्थित थे।

अधीक्षण यंत्री अनूप गोयल ने बताया कि इंदौर शहर में स्वच्छता एवं सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत किए गए कार्यों का देश के विभिन्न प्रदेशों एवं शहरों के स्वच्छ भारत मिशन के वरिष्ठ अधिकारियों एवं नगरीय निकाय के अधिकारियों जिनमें छत्तीसगढ़ राज्य के आशीष तारिका एडिशनल मिशन डायरेक्टर सुडा, आशीष देवांगन निगम आयुक्त रिसाली, सुनील चंद्रवंशी निगम आयुक्त रायपुर, गोवा राज्य के स्टेट मिशन मैनेजर विवेकानंद देसाई राजेश पटेल नदीम शेख, गुजरात राज्य के प्रोजेक्ट ऑफिसर अमी मोरी, उत्सव जोशी, हरियाणा राज्य के करनाल अपर आयुक्त धीरज कुमार, झारखंड राज्य के डिप्टी कमिश्नर सूरज कुमार, जमशेदपुर से कृष्णा कुमार, कर्नाटक राज्य से रेणुका, विजय मक़लाई, एसबी स्नेह लता, अशोक सिंघम, केरल राज्य से जफर मालिक, प्रवीण के ज्योतिष चंद्रन, विपिन, महाराष्ट्र राज्य से शिरीष, ओमप्रकाश देवी, राजस्थान से राजेश मीणा, गौरव सिंह, तेलंगाना राज्य से डॉक्टर एन सत्यनारायण, बी संतोष, चित्रा मिश्रा, वेनू गोपाल रेड्डी, श्रीदेवी रंजीत कुमार, त्रिपुरा राज्य से अरुण मोरे, उत्तराखंड राज्य से विशाल मिश्रा, रवि पांडे, चंडीगढ़ राज्य से अनीता मित्रा, एमपी शर्मा विजय प्रेमी नालीनी, दिल्ली से शकुंतला श्रीवास्तव द्वारा आज इंदौर शहर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण किया गया।

सर्वप्रथम वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा वार्ड क्रमांक 33 न्याय नगर मेन डोर टू डोर कचरा संग्रहण कार्य को देखा। सभी ने देखा कि किस प्रकार से निगम का कचरा संग्रहण वाहन अपने रूट पर जब आता है तो क्षेत्र के प्रत्येक नागरिक अलग-अलग डस्टबिन में अलग-अलग प्रकार का कचरा संग्रहित कर उसे कचरा संग्रहण वाहन को दे रहे हैं गीला सूखा कचरा के साथ ही नागरिकों द्वारा 6 बिन का यूज किया जा रहा है, इस पर वरिष्ठ अधिकारियों ने रहवासियों से पूछा कि इस प्रकार कचरा सेग्रीगेशन करने में आपको कोई परेशानी होती है क्या?

इस पर रहवासियों एवं क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि ने बताया कि स्वच्छता अब हमारे घर एवं शहर में है जिसको बनाए रखना हम सभी का कर्तव्य है और कचरा सेग्रीगेशन का कार्य हम सबके लिए महत्वपूर्ण है इसलिए इसे अलग अलग करने में हमें कभी कोई परेशानी नहीं होती है। न्याय नगर स्थित पार्क का भी वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा अवलोकन किया गया।

इसके पश्चात अधिकारियों द्वारा स्टार चौराहा स्थित कचरा ट्रांसफर स्टेशन का अवलोकन किया गया यहां पर निगम अधिकारियों द्वारा बताया गया कि किस प्रकार से डोर टू डोर कचरा संग्रहण होने के पश्चात यहां पर कचरा एकत्रित किया जाता है एवं यहीं से ट्रेंचिंग ग्राउंड स्थित ड्राई वेस्ट सेंटर पर भेजा जाता है एवं वहां पर गीले कचरे से कंपोस्ट खाद का निर्माण किया जाता है एवं सुखे कचरे को अलग अलग कर निपटान किया जाता है।

इसके पश्चात स्वच्छ भारत मिशन के एवं नगरीय निकाय के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा मुसाखेड़ी स्थित चौधरी पार्क कॉलोनी में सूखे नाले का अवलोकन किया गया। निगम अधिकारियों ने बताया कि किस प्रकार से यहां पर ले गंदा पानी बहता था एवं क्षेत्र में संक्रामक बीमारी का भी खतरा बना रहता था किंतु यहां के जागरूक नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों के सहयोग से इस नाले को सुखा कर यहां पर नाला क्रिकेट प्रतियोगिता भी आयोजित की गई है एवं इस सुखे नाले में विवाह वर्षगांठ, जन्मदिन एवं स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का भी आयोजन किया जा चुका है एवं नाले किनारे पौधारोपण एवं सौंदर्य करण कार्य किया गया है। इसके पश्चात वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा सिटी बस ऑफिस स्थित कंट्रोल कमांड सेंटर का भी अवलोकन किया गया।

देश के विभिन्न राज्यों के स्वच्छ भारत मिशन एवं नगरीय निकाय के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा इंदौर शहर में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट एवं स्वच्छता अभियान के तहत किए गए कार्यों का निरीक्षण एवं अवलोकन के पश्चात कहा गया कि जिस शहर के जागरूक नागरिक एवं जनप्रतिनिधि स्वच्छता के प्रति इतने सहयोगी होंगे तो वाकई में ऐसा शहर स्वच्छता में लगातार नंबर वन शहर बनने का हकदार होगा एवं इंदौर शहर के नागरिक एवं जनप्रतिनिधि स्वच्छता के प्रति सजग है यह बड़ी बात है।