गुजरात में ‘महा‘ तूफान तो ओडिशा में ‘बुलबुल‘ मचाएगा तबाही, फिर बारिश का खतरा

0
148

नई दिल्ली। गुजरात के तटीय क्षेत्र से 6 अक्टूबर को ‘महा‘ तूफान टकरा सकता है। इस चक्रवाती तूफान के चलते 120 किमी प्रतिघंटा से हवा चल सकती है, बल्कि भारी बारिश की आशंका भी जताई जा रही है। वहीं ओडिशा में एक बार चक्रवाती तूफान बन रहा है। बताया जा रहा है कि ‘बुलबुल‘ नाम का तूफान तबाही मचा सकता है। इधर, गुजरात, महाराष्ट्र, सहित अन्य राज्यों में चक्रवाती तूफान ‘महा’ के कारण भारी बारिश होने की संभावना है। इस बात की जानकारी खुद मौसम विभाग ने दी है।

इस तूफान के चलते मछुआरों को छह नवंबर तटीय इलाके से निलंबन कर दिया गया है। वहीं राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) ने गुजरात, महाराष्ट्र, दमन और दीव में चक्रवात ‘महा’ से बचाव के लिए की जा रही तैयारियों की समीक्षा की। जानकारी के मुताबिक यह तूफान छह नवंबर की रात और सात नवंबर की सुबह तक गुजरात और महाराष्ट्र तट को प्रभावित करेगा। मौसम विभाग का कहना है कि 90-120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं और 1.5 मीटर तक की ज्वारीय लहरों के साथ भारी वर्षा होने का अनुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर में उठे चक्रवाती तूफान ‘महा’ के गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने का अनुमान है। इसके चलते लक्षद्वीप में भारी बारिश होने का अनुमान है, जिसके चलते मौसम विभाग ने लक्षद्वीप में रेड अलर्ट जारी किया है। क्षेत्रीय चक्रवात चेतावनी केन्द्र के निदेशक एस बालाचंद्रन ने कहा कि महा चक्रवात लक्षद्वीप के ऊपर अरब सागर में केंद्रित है। उन्होंने कहा कि इसके गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। यह आगे लक्षद्वीप से उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और पूर्वी-मध्य अरब सागर में प्रकट होगा। मौसम विभाग ने कहा कि इसके बाद इसके बहुत हद तक गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here