डीएवीवी के रिजल्ट में बड़ी गड़बड़ी, सैकड़ों विद्यार्थियों को बता दिया अनुपस्तिथ

बता दें कि एलएलबी, बीकॉम एलएलबी, बीबीएलएलबी की परीक्षाएं 18 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुई थी और इसमें 12000 छात्र-छात्रा शामिल हुए थे. इस परीक्षा का रिजल्ट 20 मार्च को घोषित किया गया था जिसमें सैकड़ों विद्यार्थियों को एक या दो विषय में अनुपस्थित बताया गया था.

इंदौर। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की ओर से जनवरी में हुई विधि पाठ्यक्रम की ऑफलाइन परीक्षा का रिजल्ट घोषित किया गया था, जिसमें बड़ी गड़बड़ देखी गई है. इस परीक्षा में सम्मिलित होने के बाद भी बहुत से विद्यार्थियों को अनुपस्थित दर्शा दिया गया है. इससे परेशान होकर छात्रों ने रिजल्ट को लेकर विरोध दर्ज कराया है और विश्वविद्यालय प्रशासन को इसकी शिकायत की है. शिकायत के बाद विश्वविद्यालय छात्रों के रिजल्ट में बदलाव करने में जुट गया है और परिणामों में संशोधन की प्रक्रिया की जा रही है.

Must Read- मध्यप्रदेश राज्य अधिवक्ता परिषद ने वकीलों को दी राहत, बिना काले कोट के कर सकेंगे पैरवी

बता दें कि एलएलबी, बीकॉम एलएलबी, बीबीएलएलबी की परीक्षाएं 18 जनवरी से 18 फरवरी के बीच हुई थी और इसमें 12000 छात्र-छात्रा शामिल हुए थे. इस परीक्षा का रिजल्ट 20 मार्च को घोषित किया गया था जिसमें सैकड़ों विद्यार्थियों को एक या दो विषय में अनुपस्थित बताया गया था. यह गलती कैसे हुई जब इसकी जानकारी का पता लगाया गया तो यह बात सामने आई कि उत्तर पुस्तिका भेजने में गड़बड़ी हुई है. विद्यार्थियों की कॉपियां अन्य कॉलेज के बंडल में चली गई जिसमें सूची में विद्यार्थियों का नाम नहीं था इस वजह से यह अनुपस्थिति दर्शा दी गई. सूची के हिसाब से कंप्यूटर सेंटर ने भी रिजल्ट बनाकर अपलोड कर दिया और जब विद्यार्थियों ने अपनी ऑनलाइन अंकसूची देखी तो एक या दो विषयों में अपनी अनुपस्थिति देखकर उन्होंने अपनी कॉपी के नंबर विश्वविद्यालय में जमा करवाएं. विद्यार्थियों की शिकायत के बाद मूल्यांकन अधिकारियों ने अपनी गलती मानी और अब रिजल्ट में सुधार किया जा रहा है. मामले को लेकर परीक्षा नियंत्रक डॉ अशेष तिवारी ने कहा कि विद्यार्थियों की ओर से शिकायत मिली है, जिसके बाद रिजल्ट में सुधार किया जा रहा है.