सोनाली फोगाट की मौत का हुआ बड़ा खुलासा, सालों से हो रही थी ये प्लानिंग

भारतीय जनता पार्टी नेता व टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत में एक बडा़ खुलासा हुआ हैं।

भारतीय जनता पार्टी नेता व टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत में एक बडा़ खुलासा हुआ हैं। स्टार के भाई रिंकु ढाका ने उनकी मौत को लेकर पुलिस को एक तहरीर (पत्र लिखकर) दिया हैं। अगर उसी के अधार पर यकीन किया जाए तो उनकी मौत एक बेहद ही सोची-समझी साजिश हैं। जिसमें उसके साथ सालों से रेप, ब्लैकमेलिंग और समय-समय पर जहर देना की घटनाएं शामिल हैं।

सोनाली के भाई रिंकु ढाका के द्वारा पुलिस को दिए गए तहरीर के मुताबिक, करीब तीन साल से सोनाली के साथ कई घटनाएं हुई हैं। इन घटनाओं मे स्टार के निजी सचिव सुधीर सांगवाल और उसके दोस्त सुखविंदर को मौत की साजिश का जिम्मेदार बताया गया हैं।

इस प्रकार मौत की साज़िश रची गई थी स्टार सोनाली की  

सोनाली के भाई की तहरीर अपने-आप में काफी कुछ बयान करती है और इस तहरीर के मुताबिक सोनाली की मौत ना सिर्फ़ एक क़त्ल है, बल्कि क़त्ल के पीछे की साज़िश और उसकी मोटिव भी साफ है। सोनाली के भाई ने बताया है कि खुद सोनाली के पीए सुधीर सांगवान और उसके दोस्त सुखविंदर ने मिलकर उनकी बहन को साज़िश के जाल में फंसाया था।

सुखविंदर ने अब से कोई तीन साल पहले सोनाली को खाने में नशीली चीज़ मिलाकर उसके साथ रेप किया था और इसका वीडियो भी बना लिया था। जिसके बाद से सुधीर और उसका दोस्त सुखविंदर लगातार सोनाली को ब्लैकमेल कर रहे थे। यही दोनों बीच-बीच में सोनाली के खाने में जहरीली चीज़ भी मिला देते थे। जिससे उसकी तबीयत कई बार बिगड़ चुकी थी और आखि़रकार इन्हीं दोनों ने मिलकर सााजिश के तहत गोवा ले जाकर उसका कत्ल कर दिया।

Also Read : Madhya Pradesh : बकाया लोन की वजह से गई थी इंदौर के अमित यादव के परिवार की जान, सीएम शिवराज लेंगे ‘एप’ पर एक्शन

भाई रिंकू ढाका ने कहा है कि सोनाली का गोवा जाने का कोई प्लान ही नहीं था और ना ही वहां कोई शूटिंग ही थी। लेकिन घरवालों को पता चला कि वो अचानक गुरुग्राम से गोवा पहुंच गई है, जहां संदिग्ध हालत में आखिरकार उसकी मौत हो गई है। असल में ये मौत कोई मामूली मौत नहीं बल्कि साज़िशन किया गया एक क़त्ल है। भाई का कहना है कि सोनाली ने अपनी जिंदगी में चल रही इस मुश्किल के बारे में गोवा जाने के बाद पहली बार अपनी बहन और जीजा को फ़ोन पर बताया था। लेकिन इससे पहले कि परिवार उसकी मदद कर पाता, उसकी गोवा में ही मौत हो गई।

वैसे सोनाली के भाई के अलावा उसके घरवालों ने भी अब तक जो बातें कहीं हैं, वो सोनाली की मौत के पीछे किसी गहरी साज़िश की तरफ इशारा करती हैं। सोनाली की बहन ने कहा है कि सोनाली ने उसे गोवा से व्हाट्सएप कॉल करने की बात कही थी। मौत से पहले फोन पर सोनाली ने शिकायत की थी कि खाना खाने के बाद उसके हाथ पांव ढीले पड़ रहे हैं और उसके तकलीफ हो रही है। लेकिन इससे पहले कि वो इस बारे में कुछ और बता पाती उस रात सोनाली के कमरे में कोई आ गया और सोनाली ने बातचीत बीच में ही रोक दी।

सोनाली के घरवालों की मानें तो गोवा में सोनाली के साथ ऐसा पहली बार नहीं हुआ। बल्कि पिछले कुछ समय से खाना खाने बाद तकलीफ होने की शिकायत की थी। यहां तक कि तब घरवालों ने उसे डॉक्टर से मिलने की बात भी कही थी, लेकिन सोनाली ने इसे इतनी गंभीरता से नहीं लिया था। सोनाली ने ये बात अपनी मां से कही थी और छोटी बहन रूपेश से भी। सोनाली ने एक बार खीर खाने के बाद भी तबीयत बिगड़ने की बात कही थी और सोनाली ने बताया था कि तब उन्हें उसके पीए सुधीर ने ही खीर खिलाई थी।

असल में सोनाली बीजेपी लीडर होने के साथ-साथ एक एकटर भी थीं। वो सोशल मीडिया पर अपने छोटे-छोटे वीडियोज और दिलकश तस्वीरों के जरिए अक्सर छाई रहती थीं। ऐसे में उनका फिटनेस फ्रिक होना यानी अपनी सेहत के लिए सजग रहना भी लाजिमी था. और सोनाली सचमुच अपनी सेहत का हमेशा ख्याल रखती थीं। घरवालों का कहना है कि सोनाली की मौत अचानक यूं हार्ट अटैक से हो जाए, ये बात मुमकिन नहीं है।

Also Read : “झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की विधानसभा सदस्यता रद्द, जानें कौन बन सकता है नया CM

इल्ज़ाम सिर्फ सोनाली के कत्ल तक ही नहीं है, घरवालों के मुताबिक अब कातिल कत्ल के बाद सबूत मिटाने की भी कोशिश कर रहे हैं। सोनाली की मौत के फौरन बाद उनके हिसार वाले फार्म हाउस में लगे सीसीटीवी का डीवीआर, उनका लैपटॉप और दूसरी चीजें उनके फार्म हो हाउस से चोरी हो चुकी हैं और ये सब उनके पीए सुधीर सांगवान और उसके दोस्त सुखविंदर ने ही करवाया है।

48 घंटे गुजर के बाद भी नहीं हुआ पोस्टमॉर्टम

गोवा पुलिस ने इस सिलसिले में शुरुआती कार्रवाई के तहत अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज किया है। उनके घरवाले गोवा में हैं। सोनाली की मौत की इस वारदात को 48 घंटे से ज़्यादा गुज़र चुके हैं। लेकिन उनकी लाश का पोस्टमॉर्टम भी नहीं हुआ है। हालांकि गोवा शासन अब भी सोनाली की मौत को एक सामान्य मौत मान कर ही चल रहा है। लेकिन गोवा सरकार का कहना है कि वो इस मामले की जांच के लिए हर तरह से तैयार हैं, ताकि मौत का सच सामने आ सके।