अमीर हो गए ओर ज्यादा अमीर, मिडिल क्लास वालों की लुटिया डूब गई

कोरोना की रोकथाम के लिए बीते दिनों दो बार लॉकडाउन का दंश हम सभी को झेलना पड़ा था

कोरोना की रोकथाम के लिए बीते दिनों दो बार लॉकडाउन का दंश हम सभी को झेलना पड़ा था…लॉकडाउन का असर यह भी हुआ कि दुकानदारों की दुकानें ठप हो गई..कईयों  की नौकरी चली गई और कईयों के सामने पेट की भूख मिटाने के लिए भी लाले पड़ गए थे लेकिन यह आश्चर्य ही होगा कि भले ही लॉकडाउन के कारण मध्यमवर्गीय या गरीब वर्ग के लोगों की लुटिया डूब गई परंतु अमीर ओर अधिक अमीर हो गए।

रिपोर्ट में यह हुआ खुलासा

ऑक्सफेम की एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि विश्व के दस अरबपतियों को लॉकडाउन का कोई असर नहीं हुआ है। न दौलत कम हुई और न किसी तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा, उल्टे दौलत में पांच लाख करोड़ का इजाफा हो गया। जिन अरबपतियों की दौलत में इजाफा हुआ है उनमें  टेस्ला के सीईओ एलन मस्क और ऐमजॉन के फाउंडर जेफ बेजोस शामिल है।

6 गुना मात्र इन 10 लोगों के पास रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनिया भर में 310 करोड़ निर्धन नागरिकों की कुल संपत्ति का 6 गुना मात्र इन 10 लोगों के पास है। लॉकडाउन के समय जबकि अरबों लोग बेरोजगार हो गए, काम धंधे चौपट हो गए तब दुनिया के 10 सबसे बड़े अरबपतियों की दौलत रोजाना 1.3 अरब डॉलर के हिसाब से बढ़ी और इस दौरान उसमें करीब दोगुने तक का इजाफा देखने को मिला है।